Sat. Feb 4th, 2023

अमृत योजना के तहत डाली गई पाइप लाइनों से सड़कें धंस गई हैं। अधिकांश हैंडपंप खराब हालत मे है और लोगों को पेय जल की किल्ल का सामना करना पड़ रह है। यहां बजट के अभाव में पार्क का सौंदर्यीकरण नहीं हुआ है। कई अन्य काम भी पूरे नहीं हुए हैं। श्मशान स्थल का भी सौंदर्यीकरण नहीं हो सका है। उल्लेखनीय है कि शहर के वार्ड नंबर 6 में नाई का नगले व लाला का नगला कुछ हिस्सा आता है। इस वार्ड में अधिकांश इलाकों में समस्याओं का अंबार है। अमृत योजना के तहत डाली गई पाइप लाइन लीकेज के चलते जगह जगह सड़क धंस गई है। गड्ढों में पानी भरा हुआ है। वार्ड में कई हैंडपंप खराब हालत में हैं तो कई रिबोर होने का इंतजार कर रहे हैं। इसके अलावा वार्ड में दशकों पुराना शौचालय मौजूद है, लेकिन आज तक इसकी मरम्मत का काम पूरा नहीं हुआ है। बजट के अभाव में श्मशान स्थल का सौंदर्यीकरण नहीं हुआ है। आंबेडकर पार्क का भी सौंदर्यीकरण नहीं हुआ है। इसके अलावा वार्ड में पानी निकासी के पर्याप्त इंतजाम न होने के कारण ज्यादातर गलियों में बिना बारिश के ही पानी भरा हुआ है। गंदे पानी से संक्रामक रोग फैलने की आशंका बनी हुई है। संवादभोला के दरबार का जलभराव ने रोके रास्ता

-हरीशचंद्र दीक्षित
मेरे वार्ड में कुल 25 सड़कें हैं। इनमें से मात्र 6 सड़कों का निर्माण हुआ है। कई हैंडपंप खराब हालत में हैं या फिर रिबोर का इंतजार कर रहे हैं। भूतेश्वर मंदिर जाने वाले रास्ते पर करीब 5 साल से जलभराव हो रहा है। इसके अलावा अमृत योजना के तहत डाली गई पाइप लाइन लीकेज के चलते सड़क धंस गई है। जलभराव के चलते लोगों का पैदल चलना मुश्किल हो रहा है। बजट के अभाव में श्मशान, आंबेडकर पार्क, शौचालय आदि का सौंदर्यीकरण का काम नहीं हुआ है। 26 लोगों के पीएम आवास बने हैं। विधवा व वृद्धावस्था पेंशन कई महीने से लोगों को नहीं मिल रही है।
-विनोद कर्दम, सभासद वार्ड नंबर छह

Spread the love

Leave a Reply