Thu. Dec 1st, 2022

बाल दिवस के मौके पर 12 साल की एक बच्ची को एक दिन के लिए सुपेला थाना प्रभारी बनाया गया। थाना की जिम्मेदारी संभालने के बाद सृष्टि ने सभी पुलिसकर्मियों से सवाल पूछे। जिसमें छुट्टी कब रहती है और चोरों को कैसे पकड़ते हैं, जैसे सवाल थे।

बाल दिवस के मौके पर 12 साल की एक बच्ची के लिए खुशी का पल तब आया जब उसे एक दिन के लिए सुपेला थाना का प्रभारी बनाई । थाने का काम काज संभालते ही बच्ची थाना प्रभारी ने अपने अधीनस्थों से एक कई सारे सवाल पूछे। बच्ची ने सवाल पूछा कि थानों में छुट्टी कब रहती है। कब चोरोकोपकड़ना उसके मासूमियत भरे इस सवाल को सुनकर सभी लोग हसने लगे । सुपेला टीआइ दुर्गेश शर्मा ने बच्ची को थाना प्रभारी की कुर्सी पर बैठाया इसके बाद सभी पुलिस कर्मियों ने बच्ची को सलाम किया। पुलिस वालों के सलाम को देखकर बच्ची काफी हर्षित हुई और उसने कहा कि वो भी बड़ी होकर आइपीएस अधिकारी बनेगी। एक दिन की थाना प्रभारी ने थाना का भ्रमण किया और काम काज को समझा।सुपेला थाना परिसर में बाल दिवस के मौके पर शासकीय स्कूल सुपेला और शिवा पब्लिक स्कूल के बच्चों के लिए एक कार्यक्रम आयोजित किया गया। जहां पर कक्षा चौथी की 12 वर्षीय छात्रा सृष्टि वर्मा को एक दिन का थाना प्रभारी बनाया गया। भिलाई नगर सीएसपी निखिल राखेचा और सुपेला टीआइ दुर्गेश शर्मा ने वर्दी में पहुंची बच्ची को अपने बीच में बैठाया। इसके बाद से एक दिन का थाना प्रभारी बनाया। थाना की जिम्मेदारी संभालने के बाद सृष्टि ने सभी पुलिसकर्मियों से सवाल पूछे। जिसमें छुट्टी और चोरों को कैसे पकड़ते हैं, जैसे सवाल थे। टीआइ दुर्गेश शर्मा सहित अन्य पुलिस कर्मियों ने भी सृष्टि के हर सवालों का जवाब दिया। इसके बाद एक दिन की थाना प्रभारी सृष्टि ने पूरे थाना का भ्रमण किया। थाने के सभी स्टाफ ने सृष्टि वर्मा को सीसीटीएनएस, महिला डेस्क, बंदी गृह, बाल मित्र कक्ष और विवेचक कक्ष में जाकर वहां का भ्रमण किया।

Spread the love

Leave a Reply