Sat. Mar 2nd, 2024

भिलाई। मनुष्य में देवत्व का उदय एंव धरती पर स्वर्ग सा वातावरण सुख शांति के साथ ही भारत सहित पूरे विश्व में एकता समता व भाईचारा का वातावरण निर्मित करने गायत्री महायज्ञ 5 मई को आयोजन किया गया था। बुद्धपूर्णिमा के दिन यह कार्यक्रम आयोजित कि था इस अभियान में भारत सहित पूरे विश्व से दो लाख 50 हजार घरों में गायत्री यज्ञ अनुष्ठान करने का लक्ष्य रख गया है।

गायत्री परिवार कार्यकर्ता मोहन उमरे ने बतायाकि गायत्री और संरक्षक संरक्षत व माता पिता है। वे जीवन दर्शन के सिद्धांत को लिखाते है। इन दिनों व्यक्ति चमत्कार को नमस्कार मानकी आस्था और ना अनास्था संकट के बीच के दौरन सं गुजर रहा है।

Spread the love

Leave a Reply