Fri. Dec 2nd, 2022

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने शहडोल में जनजातीय गौरव दिवस के कार्यक्रम के बाद मंगलवार शाम को भोपाल में राजभवन में कार्यक्रम में भाग लिया था इस अवसर पर राष्ट्रपति ने 2 परियोजनाओं का वर्चुअल शिलान्यास किया। रक्षा मंत्रालय के ग्वालियर स्थित रक्षा अनुसंधान एवं विकास संस्थान डीआरडीओ में मेक्सिमम माइक्रोवाइल कटेनमेंट लेबोरेटरी बीएसएल-4 का वर्चुअल शिलान्यास किया। करीब 200 करोड़ रुपये लागत की यह लैब कोरोना जैसी चुनौतिया का सामना करने में सहयेाग करेगा ।  

राष्ट्रपति ने रोड परिवहन राजमार्ग मंत्रालय का रातापानी-औबेदुल्लागंज-इटारसी फोरलेन परियोजना एनएच-40 का भी वर्चुअली शिलान्यास किया। यह परियोजना भारतमाला परियोजना में एनएच-46 पुराना एनएच-69 औबेदुल्लागंज से बैतूल इंटर-कॉरिडोर मार्ग का हिस्सा है, जो भोपाल से नागपुर को जोड़ता है। इस मार्ग का 11 .35 किलोमीटर का खण्ड रातापानी वन्य-जीव अभयारण्य में है एवं रातापानी खण्ड भोपाल-नागपुर कॉरिडोर का भाग है। परियोजना में वन्य-जीव और पर्यावरण की सुरक्षा के लिये आवश्यक उपाय शामिल हैं। वन्य-जीव अभयारण्य क्षेत्र में पशु अंडरपास के प्रावधानों से वन्य-प्रणियों को आवागमन में आसानी होगी। परियोजना की कुल लंबाई 12.38 किमी. है। इसके निर्माण पर 417 करोड़ 51 लाख रुपये की लागत आएगी। परियोजना का निर्माण कार्य 18 माह की अवधि में पूर्ण किया जाएगा। इस मार्ग को चौड़ा करने से वन्य-प्राणियों के आवागमन/आवास पर पड़ने वाले प्रभाव को कम करने के लिए 5 बड़े पशु अंडरपास 100 मी, 420 मी, 1226 मी, 65 मी एवं 65 मी.) एवं 2 छोटे पशु अंडर पास 10 मी. एवं 10 मी. अधो-संरचनाएं बनाई जाएगी। परियोजना में एक माइनर ब्रिज एवं 2 व्हीकल अंडरपास का निर्माण भी किया जाना है।

Spread the love

Leave a Reply