Thu. Dec 1st, 2022

उत्तर प्रदेश रोडवेज कर्मचारी संघ के बैनर तले कर्मचारी तमाम मांगों को लेेकर कर्मचारियों ने पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत जोन के आठों डिपो में प्रदर्शन किया।

सिविल लाइंस बस स्टेशन को शहर के बाहर शिफ्ट किए जाने की योजना के विरोध समेत कई अन्य मांगों को लेकर रोडवेज कर्मियों ने बृहस्पतिवार को प्रदर्शन किया। प्रयागराज रीजन के सभी डिपो के साथ राजापुर स्थित वर्कशॉप में हुए प्रदर्शन के दौरान रोडवेज कर्मचारियों ने जमकर नारेबाजी की। यह भी कहा कि शहर के बाहर बस स्टेशन अगर शिफ्ट किए गए तो रोडवेज कर्मी इसका खुलकर विरोध करेंगे। उत्तर प्रदेश रोडवेज कर्मचारी संघ के बैनर तले कर्मचारी तमाम मांगों को लेेकर कर्मचारियों ने पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत जोन के आठों डिपो में प्रदर्शन किया। इस दौरान कर्मचारियों ने मुख्यमंत्री, परिवहन मंत्री, प्रबंधक निदेशक को संबोेधित ज्ञापन सभी डिपो के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधकों को सौंपे। कर्मचारियों की मुख्य मांग नई बस, संविदाकर्मियों के नियमतीकरण, परिवहन निगम को राजकीय रोडवेज घोषित करने , जनसंख्या के हिसाब से बसों का बेड़ा बढ़ाने की मुख्य रूप से रही।  प्रदेश मंत्री सत्यनारायण यादव ने कहा कि कर्मचारियों की समस्या हल करने के लिए प्रदेश भर में आज प्रदर्शन हुआ। कहा कि शहर में बस स्टेशन होने से यात्रियों को सहूलियत होती है। इस वजह से बस स्टेशनों को शहर के बाहर शिफ्ट करने की भूल रोडवेज प्रशासन और शासन न करे। कहा कि शहर से किसी भी कीमत से बस स्टेशन को बाहर नहीं होने दिया जाएगा। इस दौरान क्षेत्रीय अध्यक्ष दल सिंगार यादव ने भ्रष्टाचार की शिकायतों की स्वतंत्र जांच कराने की मांग की। क्षेत्रीय मंत्री उमा शंकर मौर्य ने कहा कि प्रयागराज रीजन में डग्गामारी के खिलाफ संघ द्वारा आंदोलन किया गया तो पिछले दिनों आरटीओ ने जांच कर कई वाहन भी पकड़े। उधर प्रयाग डिपो के अध्यक्ष चंद्रबली उपाध्याय , जीरोरोड केे अध्यक्ष अवधेश मिश्रा, लीडर रोड के त्रिलोक सिंह आदि ने अपने-अपने डिपो के एआरएम  को ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर आशुतोष मिश्रा, गया प्रसाद साहू, अवध लाल सिंह, अनिल कुमार यादव, रोहित कुमार कनौजिया, रियाज अहमद, ज्ञान सिंह, योगेेश कुमार  आदि मौजूद रहे।

Spread the love

Leave a Reply