Sun. May 26th, 2024
रामनवमी के अवसर पर चार लाख श्रद्धालु और रामभक्तों ने पूजा अर्चना किया। इस क्रम विधि व्यवस्था संभालने में सिविल डिफेंस ने पुलिस व प्रशासन का पूरा सहयोग किया। भक्तों की भीड़ का नियंत्रण पुलिस, जिला प्रशासन, सिविल डिफेंस के अतिरिक्त मंदिर के 200 निजी सुरक्षाकर्मी का मोर्चा लागा रहा। हनुमान मंदिर में तैनात सिविल डिफेंस जवानों का नेतृत्व पटना सिविल डिफेंस के चीफ वार्डन विजय कुमार सिंह उर्फ़ श्याम नाथ सिंह ने किया। महावीर मंदिर के प्रशासक प्रसिद्ध आईपीएस किशोर कुणाल के हवाले से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस बार रामनवमी में चार लाख से अधिक भक्तों ने सोना मुकुटधारी हनुमान के दो विग्रह का दर्शन किया। इस अवसर पर भक्तों की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पटना जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन के अतिरिक्त भारी संख्या में महावीर मंदिर के 200 निजी सुरक्षाकर्मी लगे रहे। सिविल डिफेंस के 100 से अधिक जवानों ने हार्डिंग पार्क से लेकर महावीर मंदिर के दोनों मुख्य द्वार पर लगभग 3 किलोमीटर की दूरी तक भीड़ नियंत्रण का कार्य सफलतापूर्वक संभाला। भक्तों की प्रसाद सेवा की देखभाल के लिए अयोध्या से पधारे 8 पुजारी, जबकि 100 से अधिक उद्यमी 25,000 किलो नैवेद्यम तैयार किया। जिनकी विक्री कर मंदिर प्रबंधन ने अलग-अलग स्टॉल लगाकर बेचा। इसके अतिरिक्त 16 बड़े स्क्रीन भी लगाए गए, जहां से दर्शनार्थी महावीर हनुमान का दर्शन और प्रसाद व्यवस्था का अवलोकन करते रहे। पटना के आपदा प्रबंधन के अपर समाहर्ता देवेंद्र प्रताप शाही और पटना नागरिक सुरक्षा कोर के जिला अनुदेशक अरविंद कुमार ने व्यवस्था की देखरेख करते रहे। सिविल डिफेंस के वरीय वार्डन सीताराम राय, अरुण कुमार, कुंदन कुमार , हरेंद्र नाथ ,हरि ओम कुशवाहा रूनम कुमारी, श्याम नंदन चौरसिया, अखिलेश प्रसाद और महिला स्वयंसेवक सह नई आपदा मित्र समीक्षा कुमारी ने भीड़ नियंत्रण के काम में सक्रिय रही।
Spread the love

By Awadhesh Sharma

न्यूज एन व्यूज फॉर नेशन

Leave a Reply