Sun. May 26th, 2024

 

बेतिया : पश्चिम चम्पारण जिला के बैरिया प्रखंड क्षेत्र के सूर्यपुर पंचायत अंतर्गत उत्क्रमित मध्य विद्यालय कोईरपट्टी में एमडीएम के चावल को बेचने की तैयारी के मंसूबों पर ग्रामीणों ने पानी फेर दिया है। सूत्रों ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रधानाध्यापक मधुभूषण पासवान ने एमडीएम का 5 बोरा चावल चोरी कर बगल के पुराने भवन में रखे जलावन की लकड़ी वाले कक्ष में चोरी से छुपा कर रखा, जब ग्रामीणों की नजर पुराने भवन में रखे चावल के बोरा पर पड़ी तो ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया।ग्रामीण ने बताया कि इससे पूर्व प्रधानाध्यापक ने एमडीएम का चावल झोला में भरकर साइकिल में लटकाकर विद्यालय से चावल बेचा जाता रहा है। जब झोला से चावल बेंचने से उनका मन नहीं भरा तो अब एमडीएम के चावल का बोरा बेचना प्रारम्भ किया है। उनके कारगुज़ारी रुपी पाप का घड़ा भर चुका, ग्रामीणों की नजर जब पुराने विद्यालय के भवन पर पड़ी तो देखा गया की जलावन की लकड़ी से चावल का बोरा को ढककर रखा गया है। जिसको लेकर ग्रामीण ने घंटो बवाल मचाया, सोसल मीडिया पर वीडियो वायरल किया। उपर्युक्त विद्यालय में जब संवाददाता पहुंचा तो विद्यालय के प्रधानाध्यापक ने पहले प्रधानाध्यापक बनने से इंकार किया, अंततोगत्वा उन्होंने धीरे स्वर में बताया कि वे ही प्रधानाध्यापक हैं। विद्यालय में देखा गया कि जिस वर्ग में बच्चे पढ़ रहे हैं। वहां चूहे का जगह जगह बिल है जिससे कभी भी अनहोनी की घटना बच्चो के साथ घट सकती है । विद्यालय में पढ़ रहे बच्चो से पूछा गया तो बच्चो ने दबी जुबान से कहा कि, स्वच्छ पानी एवं शौचालय की व्यवस्था नहीं होने पर गांव के पुराने मुखिया के दरवाजे से पानी और शौच करने के लिए खुले मैदान (सरेह) में जाते है। विद्यालय के प्रधानाध्यापक किसी भी वर्ग में कभी भी नहीं पढ़ाते हैं।विद्यालय के प्रत्येक क्लासरुम में गंदगी फैली हुई है। विद्यालय का जो स्टोर रुम है, उसकी चाबी रसोईया के पास रहता है। इस बाबत प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी उमेश कुमार से बात किया गया, तो उन्होंने बताया कि जांच कर उचित करवाई कार्रवाई की जाएगी।

Spread the love

By Awadhesh Sharma

न्यूज एन व्यूज फॉर नेशन

Leave a Reply