Sat. Jan 28th, 2023


पटना ‌‌‌‌:  राजद प्रवक्ता चित्तरंजन गगन ने मीडिया को बताया है कि गत दिनों हुए गुजरात और हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के साथ, विभिन्न राज्यों में उपचुनावों के परिणाम से यह स्पष्ट हो चुका है कि भाजपा का अवसान अब प्रारंभ हो चुका है। चुनाव परिणाम का विश्लेषण करने से स्पष्ट है कि भाजपा के खुशफहमी पालने के दिन अब लद चुके हैं।
 

राजद प्रवक्ता ने कहा कि जिस गुजरात को भाजपा अपनी बड़ी जीत बता रही है वहां उसके वोट प्रतिशत में भारी गिरावट आई है। 2019 के लोकसभा चुनाव में गुजरात में भाजपा को 62.21 प्रतिशत वोट मिले थे जो घटकर इस विधानसभा चुनाव में मात्र 53 प्रतिशत रह गया है यानी 9 प्रतिशत वोट का क्षरण हुआ है।   जबकि यह विधानसभा चुनाव भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नाम पर हीं लड़ा गया था।  राजद प्रवक्ता ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में तो लोकसभा चुनाव 2019  में भाजपा को 69.70 प्रतिशत वोट मिले थे जो इस विधानसभा चुनाव में 26 प्रतिशत क्षरण के साथ 43 प्रतिशत पर आ गया। लोकसभा और विधानसभा का हुए उपचुनावों में भी उत्तर प्रदेश में भाजपा की परम्परागत खतौली विधानसभा सीट को भारी मतों के अंतर से गंवाना पड़ा। साथ हीं उत्तर प्रदेश के मैनपुरी लोकसभा, राजस्थान के सरदार शहर, छत्तीसगढ़ के भानुप्रतापपुर, उड़ीसा के पदमपुर विधानसभा क्षेत्रों के उपचुनाव में भाजपा को जबरदस्त ढंग से मुंह की खानी पड़ी।
   

राजद प्रवक्ता ने कहा कि बहुत हीं साधारण अंतर से कुढ़नी विधानसभा उप चुनाव की जीत को भविष्य की राजनीति का संकेत मानने वाले भाजपा नेताओं को समझ लेना चाहिए कि दो राज्यों के विधानसभा चुनावों और एक लोकसभा तथा छः विधानसभा के उपचुनावों के परिणाम और वोट शेयर भविष्य के राजनीति की ओर इंगित करता है। उपर्युक्त जानकारी चित्तरंजन गगनप्रदेश प्रवक्ता राजद बिहार ने दी।

Spread the love

By Awadhesh Sharma

न्यूज एन व्यूज फॉर नेशन

Leave a Reply