Sat. Jan 28th, 2023

दुर्ग से राजहरा रेल मार्ग के अंतर्गत मरोदा रेलवे स्टेशन के यार्ड में शुक्रवार को यात्री ट्रेन की एक बोगी पटरी से उतर गया था । दुर्घटना मे बोगी में सवार 12 या 13 लोग से अधिक यात्री घायल हो गया । हादसे की गंभीरता देखते हुए जानकारी रेलवे के आपदा प्रबंधन एवं एनडीआरफ की टीम को भी दी गई। कुछ ही देर में घटना स्थल पर राहत टीम पहुंच गई व बचाने कार्य शुरू किया गया। आम लोगों को बाद में पता चला कि यह सब रेलवे और एनडीआरफ की टीम की संयुक्त माकड्रिल का हिस्सा था। इस दौरान मंडल रेल प्रबंधक भी मौजूद थे।

मरोदा रेलवे स्टेशन पर आज सुबह लगभग 9:25 बजे माक ड्रिल शुरू हुआ। यात्री बोगी पटरी से उतरते हैं रेलवे का स्थानीय अमला सक्रिय हो गया और कंट्रोल रूम को सूचना दिया । इसके बाद मे रेलवे का आपदा प्रबंधन टीम चरोदा यार्ड से रवाना हुआ। इतना ही नहीं एनडीआरएफ कटक थर्ड बटालियन की टीम जो घटना के वक्त दुर्ग में ही थी उन्हें भी सूचना दी गई। हादसे की जानकारी लगते ही डी मंडल रेल प्रबंधक संजीव कुमार भी मौके पर पहुंच गए थे।राहत टीम ने बोगी से यात्रियों को बाहर निकालना शुरू किया। इस दौरान कुछ यात्री ट्रेन में बुरी तरह फंस गए थे। जिन्हें बोगी की खिड़की को कटर से काटकर निकाला गया। मौके पर ही रेलवे का चिकित्सा विभाग भी मौजूद था। घायलों का प्राथमिक उपचार किया गया। गंभीर रूप से घायलों को चरोदा अस्पताल के लिए रिफर किया गया। इस दौरान इस बात का ख्याल रखा गया कि कम से कम समय में प्रभावितों को राहत दी जा सके। राहत एवं बचाव कार्य सहित मरम्मत कार्य जारी है।

Spread the love

Leave a Reply