Mon. Apr 22nd, 2024

मध्यप्रदेश के मुरैना में दस लाख रुपये की फिरौती के लिए तीन बदमाशों ने पवन गोस्वामी नामक टैक्सी मालिक का अपहरण कर लिया। पुलिस को फिलहाल कोई सुराग नहीं मिला है।

मध्यप्रदेश के चंबल इलाके में लूट, डकैती और अपहरण की घटनाएं बढ़ने लगी हैं। ऐसा ही एक मामला और सामने आया। मुरैना जिले में दस लाख रुपये की फिरौती के लिए तीन बदमाशों ने पवन गोस्वामी का अपहरण कर लिया। इस बात की सूचना पुलिस को मिली तो जिले के सभी थानों को सक्रिय कर दिया गया। कोतवाली पुलिस गोस्वामी को मुक्त कराने के लिए जुटी है। पुलिस ने फिलहाल उसकी बोलेरो जीप को जब्त कर लिया है।   जानकारी के मुताबिक कोतवाली पुलिस की टीम ने मंगलवार की रात आठ बजे बड़े गांव हाईवे के पास घेराबंदी कर पवन गोस्वामी की बोलेरो को टक्कर मारकर रुकवाया। फिर बदमाश उसका अपहरण कर ले गए। पुलिस ने नाकाबंदी कर दी तो बोलेरो को तो पकड़ लिया, लेकिन आरोपी बच निकले। बोलेरो के पीछे अपाची बाइक पर एक आरोपी धर्म सिंह तोमर निवासी सुहांस थाना एंडोरी भिंड मौके से भागने में सफल हो गया।

मंगलवार दोपहर 12 बजे दो अपहरणकर्ता पवन बघेल और धर्म सिंह तोमर ग्राहक बनकर जौरा कस्बे में बोलेरो मालिक पवन गोस्वामी, उम्र-22 वर्ष, पिता रामबिलास गोस्वामी के घर पहुंचे। उससे बोले कि निरार माता जाना है। बोलेरो हायर करना चाहते हैं। किराया तय होने पर पवन गोस्वामी पार्टी लेकर निरार चला गया। निरार से जौरा लौटते समय बदमाशों ने पवन गोस्वामी को बोलेरो से उतारकर पीटा। हाथ-पैर बांधकर उसे उसी की गाड़ी में डाल लिया। अपहरणकर्ताओं ने दस लाख रुपये की फिरौती मांगी। फिरौती वसूलने के लिए अपहरणकर्ता बोलेरो व पवन गोस्वामी को जौरा से मुरैना व बड़े गांव तक ले पहुंचे। इस बीच पुलिस को जानकारी मिल गई तो पुलिस अधीक्षक आशुतोष बागरी ने जिले के सभी थानों की टीमों को सक्रिय किया। कुछ ही घंटों में बोलेरो बरामद हो गई। अब भी पवन की तलाश जारी है।  

Spread the love

Leave a Reply