Sun. Nov 27th, 2022

रामनगर (नैनीताल)। काशीपुर के अल्लीखां मोहल्ले में अवैध रूप से चल रहीं दो आरा मशीनों को सीज करने गई वन विभाग की टीम को विरोध का सामना करना पड़ा। आरोप है कि लोगों ने काशीपुर के रेंजर की गाड़ी को घेर लिया और बंधक बनाने का प्रयास किया। एसडीओ से नोकझोंक भी हुई। तराई पश्चिमी वन प्रभाग के डीएफओ कुंदन कुमार ने बताया कि काशीपुर के मोहल्ला अल्लीखां में दो आरा मशीनों के अवैध रूप से चलने की सूचना मिली थी। मंगलवार शाम पांच बजे एसडीओ प्रदीप कुमार धौलाखंडी की अगुवाई में वन कर्मियों की टीम ने वहां छापा मारा था। वहां सारिक, मो. आरिफ के घर के अहाते में आरा मशीनें चलती मिलीं। टीम ने दोनों आरा मशीनों को सीज कर दिया। आरोप है कि इस दौरान आरा मशीन मालिक ने मोहल्ले वालों को बुलाकर वन कर्मियों को घेर लिया।

गालीगलौज और अभद्रता भी की गई। गुस्साए लोगों ने काशीपुर के रेंजर संजीव कुमार की बोलेरो को रोक लिया। बोलेरो में बैठे अधिकारियों और कर्मचारियों को बंधक बनाने का प्रयास किया।
डीएफओ ने बताया कि इस घटना की जानकारी ऊधमसिंह नगर के एसएसपी को फोन पर दी गई। इसके बाद स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची तो भीड़ तितर-बितर हो गई। डीएफओ ने बताया कि सारिक और मो. आरिफ समेत करीब 70 लोगों के खिलाफ काशीपुर कोतवाली में राजकीय कार्य में बाधा डालने, भारतीय वन अधिनियम 1927 और आरा मशीन नियमावली 1978 के उल्लंघन की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। वन कर्मियों की टीम में रामनगर रेंज के रेंजर देवेंद्र रजवार, बन्नाखेड रेंजर लक्ष्मण सिंह मर्तोलिया, आमपोखरा के रेंजर और वन सुरक्षा दल की टीम मौजूद रही।

Spread the love

Leave a Reply