Sun. Nov 27th, 2022

छत्तीसगढ़ में खराब सड़कों के मुद्दे को लेकर चल रही सियासत गृहमंत्री के एक कमेंट के बाद और तेज हो गई है। सड़कों से जुड़ा विभाग PWD भी उन्हीं के पास है। दरअसल राज्यसभा सांसद सरोज पांडेय ने हाल में गड्‌ढों वाली सड़क का वीडियो शेयर किया था। वीडियो पर गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने ऐसी टिप्पणी कर दी, जिससे सांसद नाराज हो गईं। उन्होंने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर गृह मंत्री के इस्तीफे की मांग की है। सांसद सरोज पांडेय ने कोरबा जाते हुए गड्ढों भरी सड़क पर खड़ी होकर किसी टीवी एंकर की तरह सड़कों की बदहाली वीडियो में बताई थी। इसे उन्होंने अपने सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया था, कि प्रदेश की सड़कों की दुर्दशा पर सरकार ध्यान दें। इस वीडियो को वायरल होने के बाद पक्ष और विपक्ष के बीच इसे लेकर जमकर बयानबाजी भी हुई थी। सूबे के गृह और पीडब्ल्यूडी मंत्री ने भी इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी थी

गृहमंत्री ने कह दिया-…कभी चिकनी सड़कों का भी वीडियो बनाएं
सासंद के इस सड़क वाले वीडियो पर गृह और पीडब्लूडी मंत्री ताम्रध्वज साहू ने दो दिन पहले विवादित बयान देते हुए कहा था कि ‘सरोज पांडेय अपना चार्मिंग फेस दिखाते वीडियो बनाती हैं, कभी हमारी चिकनी सड़क का भी वीडियो बनाएं’। इस बयान के बाद जमकर विवाद बढ़ गया और भाजपा ने इसे महिला अपमान से जोड़ते हुए गृह मंत्री से इस्तीफे की मांग कर डाली। राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने भी ताम्रध्वज के बयान की निंदा की। इसके बाद आज सरोज पांडेय ने कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिख कर नवरात्रि की बधाई दी और कहा की मातृ शक्ति के आराधना के महापर्व पर आपको एक महिला और एक बेटी की मां होने के नाते पत्र लिखने को मजबूर हो गई हूं। उन्होंने लिखा कि आपके मंत्री ने भाषा की मर्यादा को लांघा है। उनसे आपको तुरंत इस्तीफा लेना चाहिए।

भाजपा कार्यकाल में हुआ घटिया निर्माण कार्य’ दुर्ग की भाजपा नेत्री और राज्यसभा सांसद सरोज पांडेय ने कोरबा से बलौदा जाने वाली खराब सड़क को वीडियो में दिखाया था। सांसद ने सड़क को दिखाते हुए भूपेश सरकार के कामों पर किसी एंकर की तरह निशाना साधा था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसका जवाब दिया। उन्होंने कहा कि इससे पहले राज्य में भाजपा की सरकार थी, सड़कों का घटिया निर्माण उसी ने किया इसलिए 3 साल में बदहाल हो गई।

Spread the love

Leave a Reply