Sun. May 26th, 2024

 

डीएम की अध्यक्षता में जिलास्तरीय समिति की बैठक सम्पन्न 

बेतिया। दिनेश कुमार राय जिला पदाधिकारी पश्चिम चम्पारण जिला की अध्यक्षता में बुधवार की जिलास्तरीय समिति की बैठक सम्पन्न हुई। उपर्युक्त बैठक में उन्होंने प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना अंतर्गत कुल-47 ऑनलाईन आवेदन का अनुमोदन किया। बैठक में जिला मत्स्य पदाधिकारी ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2022-23 में जिला में 36.05 हजार एमटी मछली का उत्पादन किया गया, जबकि जिला में 43.5 हजार एमटी मछली की मांग है। उन्होंने बताया कि मांग के अनुरुप मछली उत्पादन करने तथा उत्पादित मछलियों को राज्य एवं देश के अन्य स्थान पर भेजने का समन्वित प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिला में 20 टन प्रतिदिन मत्स्य आहार उत्पादन को नरकटियागंज प्रखण्ड अन्तर्गत कटहरी गांव के कुन्दन सिंह को कार्यादेश दिया, वहां कार्य प्रारम्भ है। उनके द्वारा निर्माण कार्य जून तक पूर्ण कर लिया जाएगा। इसके साथ ही मणिन्दर सिंह बगहा-1, तथा राजेश कुमार, प्रखण्ड मैनाटांड भी 02 टन प्रतिदिन मत्स्य आहार उत्पादन का कार्य किया जा रहा है। बायॉफ्लॉक तालाब निर्माण में आनन्द कुमार सिंह, प्रखण्ड नरकटियागंज ने निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया है। जिला मत्स्य पदाधिकारी ने बताया गया कि जिला को रियंरिग तालाब में 29.273 हे. का कोटिवार लक्ष्य प्राप्त है, जिसमें 20.9 हेक्टेयर में 21 आवेदको को कार्यादेश है, जिसमें 7 लाभुकों ने 2.246 हेक्टेयर में कार्य पूर्ण कर लिया है। नया तालाब का निर्माण उन्नत इनपुट सहित में 26.8 हेक्टेयर में 37 आवेदको को 20.71 हेक्टेयर में कार्यादेश निर्गत किया गया है। जिसमें 28 आवेदको द्वारा 16.291 हे. में निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है। आद्रभूमि में मत्स्य अंगुलिकाओं का संचयन में प्राप्त लक्ष्य 152 हे के विरूद्ध 06 लाभुको द्वारा 92.76 हे.में मत्स्य अंगुलिका संचयन किया गया है। साथ ही मध्यम आरएएस की स्थापना, मत्स्य पालन को लघु बायॉफ्लॉक की स्थापना तथा जिन्दा मछली विक्रय केन्द्र का निर्माण कार्य, मोबाईल फिसकियोस्क तथा प्रसार एवं सलाह केन्द्र का कार्यादेश निर्गत है। उन्होंने बताया कि जिला में चौर क्षेत्र में व्यापक कार्य किया जा रहा है। जिसमें बगहा, योगापट्टी, चनपटिया तथा मझौलिया प्रखण्ड शामिल है। इससे आने वाले वर्ष में मत्स्य उत्पादन कर हमलोग अन्य राज्य को निर्यात कर सकेंगे। जिला पदाधिकारी दिनेश कुमार राय ने जिला मत्स्य पदाधिकारी को निर्देश दिया कि जिला को मत्स्य उत्पादन एवं मत्स्य आहार में आत्मनिर्भर बनाने को त्वरित गति से कार्रवाई सुनिश्चित करें। जिला में मांग के अनुरुप मत्स्य उत्पादन का सशक्त प्रयास करें, मत्स्य उत्पादक किसान । मछली उत्पादन में वृद्धि करते हुए राज्य तथा देश के अन्य क्षेत्र में निर्यात करने की कार्रवाई सुनिश्चित करें। डीएम ने निर्देश दिया कि अंलकारी मछलियों का उत्पादन पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। इच्छुक लोगों को अलंकारी मछलियों का उत्पादन को प्रोत्साहित करें। उपर्युक्त बैठक में उप विकास आयुक्त अनील कुमार, जिला कृषि पदाधिकारी, प्रवीण कुमार राय, जिला मत्स्य पदाधिकारी, गणेश राम कार्यापालक अभियंता, जल संसाधन विभाग, तिरहुत प्रमण्डल 1 एवं 2, कार्यपालक अभियंता, लघु जल संसाधन विभाग, समन्वयक, कृषि विज्ञान केन्द्र, अग्रणी जिला प्रबंधक, अग्रणी मत्स्य पालक तथा मत्स्य प्रसार पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Spread the love

By Awadhesh Sharma

न्यूज एन व्यूज फॉर नेशन

Leave a Reply