Fri. Jun 21st, 2024

ग्राम बटरेल में सात दिवसीय शिव महापुराण कथा का आयोजन किया गया था इसमें कथावाचक बाल योगी विष्णु अरोड़ा भगवान शंकर के महिमा शिव पार्वती विवाह गणेश जन्मोत्सव कार्तिकेय जन्म सहित हनुमान जी के कथा बारह ज्योतिर्लिगों के महिमा का वर्णन किया गया था। अंतिम दिन के कथा में पं. अरोड़ा ने कहा कि

भगवान शंकर विश्वास है। दक्ष की कन्या पार्वती श्रद्धा है। श्राद्ध इतनी आसान नही है। सोच विचार कर परीक्षा ले करके करें उन्होने कहा कि हनुमान जैसे सच्चा भक्त होना चाहिएं।

Spread the love

Leave a Reply