Thu. Jun 8th, 2023

वो अप्रैल के 2 सप्ताह में ट्रेनिंग पूरी करने  के बाद  घर लौट रही है। हिशा के घर लौटने की खुशी जितना उनकी मां, भाई और बहन को है, उतना ही डर भी है। हिशा की ट्रेनिंग खराब न हो, इसलिए घर वालों ने उसे उसके पिता की सच्चाई नहीं बताई। अब उनका कहना है कि बेटी जब घर आएगी और अपने पिता को खोजेगी तो वो उसे सच्चाई कैसे बताएंगे।

यहां उनकी मां सती बघेल, भाई कोमल बघेल और बड़ी बहन दीक्षा बघेल से मुलाकात हुई। हिशा के चयन को लेकर उनके अंदर जितनी खुशी दिखी, उतना ही गम भी था। गम था बीते 3 मार्च 2023 को हिशा के पिता संतोष बघेल के गुजर जाने का। हिशा जब अग्निवीर की ट्रेनिंग कर रही थी। उसी दौरान उसके पिता की कैंसर से मौत हो गई। हिशा अपने पता को सबसे अधिक चाहती थी। पिता की मौत की खबर सुनकर कहीं वो ट्रेनिंग छोड़कर न आ जाए, इस डर से घरवालों ने उसे पिता की मौत की सच्चाई से दूर रखा। जब भी ट्रेनिंग से मौका मिलता तो हिशा अपने घर में फोन लगाकर मां, भाई बहन से बात करती। हिशा जब पिता को पूछती तो घरवाले नहाने, सोने और बाहर होने की बात कहकर टाल देते थे। हिशा की मां विधवा हो गईं हैं। उनकी इस हालत में देखकर हिशा कहीं सच्चाई न जान जाए। इसलिए घर के लोग उससे वीडियो कॉल भी नहीं करते। जब भी वो वीडियो कॉलिंग के लिए कहती तो वो लोग नेटवर्क का बहाना बनाकर वाइस कॉलिंग करते थे।

Spread the love

Leave a Reply