Tue. May 21st, 2024

 

पत्रकार एवं आरटीआई कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी की घोर निंदा 

प्रशासनिक षड्यंत्र, झूठा मुकदमा, गिरफ्तारी, जेल का भय दिखाकर डराया नहीं जा सकता : शैलेंद्र तरकर

कितनी लंबी जेल तुम्हारी, देखा है जी देखेंगे, जब तक जेल में चना रहेगा, आना जाना लगा रहेगा, नारा किया बुलंद

29 मार्च 2023 को रिहाई के सवाल को लेकर झूठा मुकदमा के खिलाफ धरना प्रदर्शन सभा : किरण देव यादव

शैलेंद्र तरकर का भ्रष्टाचार के खिलाफ निरंतर आरटीआई के माध्यम से संघर्ष जारी रहेगा : मनोज मिश्रा

फर्जी केस, गिरफ्तारी, जेल से पत्रकार आरटीआई कार्यकर्ता को डराया नहीं जा सकता : डॉ कमल किशोर यादव

खगड़िया। अखिल भारतीय मिशन पत्रकार संघ के राष्ट्रीय संरक्षक संस्थापक अध्यक्ष किरण देव यादव ने आरटीआई कार्यकर्ता सह वरिष्ठ पत्रकार शैलेंद्र तरकर का प्रशासनिक षड्यंत्र के तहत फर्जी मुकदमा कर गिरफ्तारी एवं इन्हें जेल भेजने की कार्रवाई पर पत्रकार संघ एवं आरटीआई कार्यकर्ता संघ ने घोर निंदा किया है। श्री यादव ने जल्द रिहा करने तथा प्रीपेड स्मार्ट मीटर विद्युत उपभोक्ताओं को लगाने पर रोक लगाने, भ्रष्टाचार पर रोक लगाने, फर्जी मुकदमा समाप्त करने, प्रशासनिक षड्यंत्र बंद करने की मांग किया।
अन्यथा 29 मार्च 2023 को जिलाधिकारी के सामने आंदोलन धरना प्रदर्शन सभा किया जाएगा।
अखिल भारतीय मिशन पत्रकार संघ, आरटीआई संघ के राष्ट्रीय संरक्षक संस्थापक अध्यक्ष किरण देव यादव, वरिष्ठ आरटीआई कार्यकर्ता मनोज मिश्रा, ज्ञान प्रकाश, अधिवक्ता डॉ कमल किशोर यादव, पत्रकार अमरीश यादव, समाजवादी नेता गौतम गुप्ता, ईश्वर चंद्र , पत्रकार संघ से जुड़े धर्मेंद्र कुमार, सुनील कुमार, अविनाश कुमार, देव जी, ऑल रिपोर्टर यूनियन ऑफ नेशन के अध्यक्ष अरुण वर्मा, सुरेश पोद्दार, सुरेश नायक, कौशल, बृजेश कुमार, आनंद कुमार, राजा कुमार आदि ने गिरफ्तारी की निंदा किया तथा आक्रोश व्यक्त किया।
आरटीआई कार्यकर्ता एवं पत्रकारों ने कहा कि शैलेंद्र तरकर भ्रष्टाचार पर रोक लगाने तथा प्रीपेड स्मार्ट मीटर लगाने संबंधी कई आरटीआई किए थे, प्रशासन एवं बिजली विभाग ने साजिश कर झूठा मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर जेल भेज दिया, जिसका आरटीआई एवं पत्रकार संगठनों ने पुरजोर विरोध व्यक्त किया है तथा इसके विरोध में आंदोलन करने का निर्णय लिया है। कहा कि भ्रष्टाचार में लिप्त विद्युत विभाग एवं विभिन्न विभागों में अनियमितता के विरूद्ध आरटीआई करने पर मानसिकता दुर्भावना एवं राजनीति से प्रेरित होकर एवं भ्रष्टाचार को छिपाने के लिए आरटीआई कार्यकर्ता पत्रकार शैलेंद्र तरकर पर झूठा मुकदमा किया गया है। श्री तरकर ने निरंतर भ्रष्टाचार के खिलाफ कई आरटीआई किए थे, जिसका प्रत्युत्तर झूठा मुकदमा कर जेल में भेजने का प्रशासनिक एवं विभागीय षड्यंत्र किया गया। जो घोर निंदनीय है। पत्रकार एवं आरटीआई कार्यकर्ताओं के बीच आक्रोश व्याप्त है। पत्रकार आरटीआई कार्यकर्ता शैलेंद्र सरकर ने कहा कि मुझे साजिश के तहत झूठा मुकदमा में फसाया गया है षड्यंत्र कर जेल भेजा गया। सुखी कई पदाधिकारी पर आरटीआई डाले थे जिससे घबराकर पदाधिकारी प्रशासन ने षड्यंत्र रच कर कायरता पूर्ण तरीके से झूठा मुकदमा कर गिरफ्तारी कर जेल भेज दिया गया। हम प्रशासनिक षड्यंत्र, फर्जी मुकदमा, गिरफ्तारी, जेल से डरने वाले नहीं हैं।
वरिष्ठ आरटीआई कार्यकर्ता मनोज मिश्रा ने कहा कि शैलेंद्र तड़कर का भ्रष्टाचार के खिलाफ आरटीआई के माध्यम से अनवरत संघर्ष जारी रहेगा।
देश बचाओ अभियान के संस्थापक अध्यक्ष किरण देव यादव एवं अधिवक्ता डॉ कमल किशोर यादव ने कहा कि जेल एवं केस का भय दिखाकर पत्रकार एवं आरटीआई कार्यकर्ताओं को डराया नहीं जा सकता, मनोबल नहीं तोड़ा जा सकता है पत्रकार एवं आरटीआई कार्यकर्ता जेल एवं केस से डरने वाला नहीं है, संघर्ष जारी रहेगा।
इधर, जितेंद्र नाथ मिश्रा पवन कुमार कृष्णकांत सिंह बसंत चौधरी बसंत मंडल ओमप्रकाश क्रांति अजिताभ सिन्हा मुकेश सिंह आदि पत्रकार आदि कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी झूठा मुकदमा की घोर निंदा करते हुए आक्रोश व्यक्त किया।

Spread the love

By Awadhesh Sharma

न्यूज एन व्यूज फॉर नेशन

Leave a Reply