Sun. May 26th, 2024

बेमौसम बरसात  से रवि फसल चना, गेहूं, सूरजमुखी, सरसों, लाख-लाखड़ी, मूंग, उड़द एवं सब्जी, फसल, खीरा, ककड़ी, गोभी, कद्दू, खरबूजा, केला की खेती को काफी हानि हुआ।  इसमें से कोई भी फसल को बेमौसम बरसात से फसल का हानि होना तय है बीमा कंपनी को फसल की हानि का मुआयना कर किसानों को बीमा प्रदान करना चाहिए।

सबसे ज्यादा रकबा में चना की खेती की गई है जो बेमौसम बरसात एवं तेज हवा के चलते फसल को हानि हुआ है। यदि बबरसात और अधिक हुई तो किसानों के हाथ कुछ नहीं आएगा। बेमौसम बरसात वर्तमान में किसी भी फसल के लिए लाभदाई नहीं है, क्योंकि आप फसल कटने के कगार पर है। 20 प्रतिशत फसल की कटाई लगभग हो भी चुकी है किंतु 80 प्रतिशत फसल अभी खेतों में खड़ी है। दूसरे नंबर पर चना का फसल है। चना व गहूं फसल काटने का समय हो गया है किंतु बेमौसम बरसात की वजह से फसल काटने का काम भी रूक गया। मौसम यदि मेहरबान हो जाए तो एक सप्ताह में ही फसल सुरक्षित घर तक पहुंच जाएगा। यदि लगातार बेमौसम बरसात जारी रहेगा तो किसानों को बड़ा हानि हो सकता है

Spread the love

Leave a Reply