Mon. Apr 22nd, 2024

नगर पालिका निगम भिलाई चरोदा के अंतर्गत जलआवर्धन योजना फेस 1 पूरी तरह दम तोड़ती दिखाई दे रही है। निगम के 40 वार्डो में सिर्फ 30 प्रतिशत काम ही सक्सेस हो पाया हैं जबकि 70 प्रतिशत काम अब तक नहीं हो पाया है। इसके चलते गर्मी के मौसम वार्ड़ के लोगों को खारुन नही का पानी तक का नसीब नहीं हो पा रहा है। 100 करोड की योजना भिलाई चरोदा निगम में लाया गया मगर समय पर काम नही होने से जनता को पेयजल के लिए भटकने को मजबूर होना पड़ रहा है। वही निगम के अधिकारियों की लापरवाही के कारण देवबलौदा में एक टंकी का निर्माण करीब 17 लाख रुपए की लागत से हुआ है। अब रेलवे टंकी के उपयोग के लिए मना कर दिया है। इसके लिए वार्ड पार्षद समेत कई जनप्रतिनिधियों ने रेलवे डीआरएम का चक्कर लगाकर थक चुकि है।

भिलाई चरोदा में फिलहाल बोर के माध्यम से पानी टंकियों को भरकर वाटर सप्लाई घर-घर दिया जाता है। गर्मी के दिनों में कई स्थानों पर पानी को लेकर खासी दिक्कत होती है। गांधी नगर, नेहरु नगर, शांति नगर, विश्व बैंक कॉलोनी, इंदिरा पारा, बाजार चौक, चरोदा बस्ती, पंचशील नगर में गर्मी के दिनों में नल से पानी पहुंच नहीं पाता। यहां पानी को लेकर खासी दिक्कत होती है। जल आवर्धन योजना शुरु होने से इन इलाकों को काफी राहत मिलेगी।

Spread the love

Leave a Reply