Mon. Apr 22nd, 2024

 

 

  1. पटना : राष्ट्रीय जनता दल के तत्वाधान में अमर शहीद जगदेव प्रसाद जन्म शताब्दी समारोह पटना के बापू सभागार में प्रधान महासचिव सह मंत्री आलोक कुमार मेहता की अध्यक्षता में आयोजित किया गया, जिसमें हजारों की संख्या में लोग शामिल हुए।
    कार्यक्रम का शुभारंभ अमर शहीद जगदेव प्रसाद एवं भूपेन्द्र नारायण मंडल के तैल चित्र पर उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव, प्रदेश अध्यक्ष जगदानन्द सिंह, प्रधान महासचिव आलोक कुमार मेहता सहित उपस्थित गणमान्य नेताओं ने माल्यार्पण कर उनके प्रति श्रद्धांजलि अर्पित किया। माल्यार्पण के बाद उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव उपस्थित नेताओं के साथ दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन किया। उद्घाटन संबोधन में उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा कि जगदेव बाबू की कुर्बानी का संदेश न सिर्फ बिहार बल्कि भारतवर्ष के लिए है जिन्होंने सामाजिक न्याय की लड़ाई लड़ी और नब्बे भाग को अधिकार मिले इसके लिए जो संघर्ष और आन्दोलन किया वो हमसभी के लिए सामाजिक न्याय की धारा तथा संघर्षाें के माध्यम से उनके विचारों को आगे बढ़ाने के लिए संकल्प को और मजबूती देता है। तेजस्वी के अनुसार उनके संघर्ष और कुर्बानी को पिता लालू प्रसाद के बताने पर जो सूना है उससे काफी प्रभावित हुआ और उनके विचार धारा के साथ सभी को जुड़ने की आवश्यकता है क्योंकि यही सार्थक समय है। उन्होने कहा कि महागठबंधन सरकार बनने के बाद हम सभी ने संकल्प लिया है कि जिस तरह से संविधान विरोधी और नफरत फैलाने वाली शक्तियों को बिहार में सत्ता से बेदखल किया है उसी तरह से एकजुटता बनाए रखकर केन्द्र से भी सत्ता से बेदखल कर देंगे। धर्म के बारे में ज्ञान दे रहे हैं वो धर्म को अपने अनुसार परिभाषित कर चंद लोगों तक इसे सीमित रखना चाहते हैं। हमें धर्म पर किसी के सर्टिफिकेट की आवश्यकता नहीं है। जबसे भाजपा सत्ता में आई है लोकतंत्र और संविधान को कमजोर करने का कार्य किया जा रहा है और धर्म के सहारे नफरत की राजनीति की जा रही है। धर्म से धर्म को लड़ाया जा रहा है और इसमें चंद लोग हीं शामिल हैं।तेजस्वी ने कहा कि महागठबंधन सरकार बेहतर ढंग से काम कर रही है। एक खास सोंच के लोग मीडिया में वही दिखा रहे हैं जो उन्हें दिखाने के लिए दिया जा रहा है। और हमें जो पाठ पढ़ा रहे हैं उन्हें यह बताना चाहिए कि वर्ण व्यवस्था किसने बनायी। चंद लोग अपने हित में स्वयं को श्रेष्ठ और दूसरे को निम्न कहते हैं। जबकि संविधान में सभी को बराबरी का दर्जा मिला हुआ है। सभी का सम्मान बराबर है और सभी वर्ण और वर्ग को समानुपातिक प्रतिनिधितव संविधान में निहित है जिस पर हमलोग अमल कर रहे हैं। भाजपा मानवता और इंसानियत विरोधी कार्यों को कर रही है, जो दिख रहा है। इन्होंने आगे कहा कि जगदेव बाबू ने जो नारा दिया था उसी बात को आलोक ने दोहराया है लेकिन किस तरह से उन्हें जान से मारने की धमकी दी गई, लेकिन  स्पष्ट कर दिया कि आलोक को मेरे रहते कोई छू भी नहीं सकता, क्योंकि विचारों की लड़ाई के माध्यम से हीं सत्ता में भागीदारी और हिस्सेदारी मिल सकती है। जातिगत जनगणना 1931 के बाद पहली बार बिहार से शुरू हुआ है जो ऐतिहासिक कदम है और यह आने वाले समय में आंकड़ों के सहारे देने सभी को उनके अधिकार और सम्मान देने में मदद मिलेगी। इन्होंने कहा कि रोजगार देने के प्रति हमारी सरकार का जो संकल्प है उसको कैबिनेट से प्रस्ताव लेकर आगे बढ़ाया गया है और लगातार महागठबंधन सरकार इस पर काम कर रही है। प्रदेश अध्यक्ष जगदानन्द सिंह ने कहा कि जगदेव बाबू के बातों पर सचमुच में अमल करना शुरू कर दें तो हम उनके विचारों और सपनों के अनुरूप समाज का निर्माण कर सकते हैं। उन्होंने कहा था कि ‘‘जब तक खेत सूखा रहेगा, इंसान भूखा रहेगा और जब तक इंसान भूखा रहेगा, धरती पर तूफान रहेगा’’। अध्यक्षीय सम्बोधन में प्रदेश प्रधान महासचिव सह मंत्री आलोक कुमार मेहता ने कहा कि ‘‘सौ में नब्बे शोषित है, नब्बे भाग हमारा है’’। ‘‘वोट हमारा, राज तुम्हारा नहीं चलेगा’’। जगदेब बाबू के जन्म शताब्दी का कार्यक्रम हो रहा है इसलिए उनके संदेश और सन्दर्भ को समझना आवश्यक है। जिस समय उन्होंने यह संदेश दिया। उस समय उनके लोग निद्रा में रहे और उनके विरूद्ध जो लोग रह वो अल्र्ट थे, जो साजिश करके उनके साथ किस तरह का कार्य किया। ये सभी ने देखा लेकिन उनकी कुर्बानियां आज उनके लोगों को जगा दिया है। आज जब हम उनकी नारों पर बात करते हैं तो कुछ लोगों को मिर्ची लगती है। लेकिन मैं बता देना चाहता हंू कि आज हमारे लोग जगे हुए हैं और उनको उनके अधिकार और भागीदारी से कोई भी वंचित नहीं कर सकता है। जगदेव बाबू ने कहा कि पहली पीढ़ी के लोग संघर्ष के दौरान मारे जायेंगे, दूसरी पीढ़ी के लोग जेल जायेंगे लेकिन तीसरी पीढ़ी राज करेगी। उन्होंने कहा कि जगदेव बाबू के विचारों के विरुद्ध बोलने वाले लोग नागपुर में बैठे हुए हैं। पहले जिस प्रकार डरा धमकाकर और गोली के सहारे सत्ता ली गई। उसके बाद नोट को माध्यम बनाया गया, लेकिन अब बैलेट की शक्ति को हम सभी जान और पहचान गये हैं। इसके माध्यम से हम अपने वोट का उपयोग कर सत्ता और भागीदारी में मजबूती से आगे बढ़ रहे हैं। प्रजातंत्र और डेमोक्रेसी पर लगातार हमला हो रहा है। मोहन भागवत ने 2015 में आरक्षण पर हमला बोला तो लालू प्रसाद ने समय पर हमसभी को जगाया और बैलेट के सहारे 2015 में महागठबंधन की सरकार बनी। हम अपने संघर्ष और विचारों के माध्यम से जगदेव बाबू के विचारों को मजबूती के साथ आगे बढ़ायेंगे। सभी को एकजुट होकर इस लड़ाई और संघर्ष में साथ खड़े होने की आवश्यकता है।

इस अवसर पर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष उदय नारायण चौधरी, राष्ट्रीय महासचिव भोला यादव, प्रदेश उपाध्यक्ष वृषिण पटेल, डाॅ तनवीर हसन, अनील सहनी, प्रदेश प्रवक्ता शक्ति सिंह यादव, एजाज अहमद, प्रदेश संगठन महासचिव राजेश यादव, विधायक बागी कुमार वर्मा, राजंवशी महतो, फतेह बहादुर सिंह, मुकेश रौशन, इन्द्रदेव प्रसाद, रवीन्द्र सिंह, राजेश कुशवाहा, सुनील कुशवाहा, उपेन्द्र प्रसाद सिंह, रामाशीष यादव, अरविन्द सहनी, सुरेश मेहता, निर्मल कुशवाहा, मधुमंजरी मेहता, प्रियंका भारती, शोभा प्रकाश कुशवाहा, संतोष कुशवाहा, उत्तम मेहता, अनिल कुशवाहा, जीतेन्द्र कुशवाहा, कैलाश कुशवाहा, मिलन सिंह, धर्मेन्द्र कुशवाहा, अवधेश कुशवाहा सहित गणमान्य नेतागण उपस्थित रहे।प्रदेश प्रवक्ता एजाज अहमद ने बताया कि पूरे प्रदेश से अमर शहीद जगदेव प्रसाद के विचारों से प्रभावित और उनके शोषितों, वंचितों के अधिकारों के लिए संघर्ष और आन्दोलन को आगे बढ़ाने के संकल्प को आगे बढ़ाने को बिहार भर से लोग आये। कार्यक्रम का संचालन राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रो सुबोध कुमार मेहता ने किया जबकि धन्यवाद ज्ञापन श्रवण कुशवाहा ने किया।

Spread the love

By Awadhesh Sharma

न्यूज एन व्यूज फॉर नेशन

Leave a Reply