Tue. Nov 29th, 2022

अनील कुमार सिंह

अमेठी जनपद में मच्छरजनित डेंगू व मलेरिया के समुचित रोकथाम व इलाज के संबंध में कांग्रेस नेता प्रदीप सिंघल ने राज्यपाल उत्तर प्रदेश का ध्यान आकृष्ट किया है।
सर्व विदित है कि जनपद अमेठी ही नहीं पूरे उत्तर प्रदेश में मच्छरजनित बीमारी डेंगू, मलेरिया व्यापक पैमाने पर फैला हुआ है। सरकार ने बरसात के मौसम में किसी वार्ड, टोला, गांव, मोहल्ला में कीटनाशक दवाओं का छिड़काव नहीं कराया है और न ही फॉगिंग कराया है। जिसके कारण मच्छरों का प्रकोप जारी है। जिसके कारण घर-घर डेंगू व मलेरिया के मरीज हैं, जो इलाज कराने के लिए नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र, जिला अस्पताल में जा रहे हैं. परन्तु खेदजनक है कि सरकारी अस्पताल में मरीजों के लिए न बिस्तर है न ही दवाईया और न ही डाक्टर हैं। मरीजों की संख्या इतनी अधिक है कि मरीज जमीन पर फर्श पर लेटे हुए हैं। परिणाम स्वरुप बिना इलाज बेमौत मर रहे हैं युपी के लोग, विशेषकर अमेठी में। ऐसी स्थिति में अपने मरीज की जान बचाने के लिए कुछ लोग प्राइवेट नर्सिंग होम में महंगा इलाज करा रहे हैं तो कुछ लोग झोला झाप डाक्टरों से दवा लेकर और अधिक बीमार हो रहे हैं। प्रदेश सरकार व जिला के स्वास्थ्य पदाधिकारी कागजों पर अखबारों में चिकित्सा व्यवस्था को अच्छा बताने से थक नही रहे हैं। प्रदेश सरकार झूठे जुमले छोड़ने से बाज नही आ रही है।

ऐसी परिस्थित के दृष्टिगत राज्यपाल यूपी से प्रदीप सिंघल ने जनहित में त्वरित कार्रवाई कर बीमार लोगों जांच रिपोर्ट प्रत्येक घंटे के अन्दर व मरीजों को भर्ती करने की सरल प्रक्रिया एवं मरीजों के लिए समुचित बिस्तर, ब्लड, आक्सीजन, दवाईयां की व्यवस्था प्रत्येक स्वास्थ्य केन्द्र व जिला अस्पताल में मुहैया कराये जाने तथा सम्पूर्ण अमेठी जनपद के प्रत्येक गांव, कस्बा, मोहल्ला, गली में मच्छर मारने वाली दवा की फॉगिंग कराये जाने के निर्देश देने का अनुरोध किया है।

Spread the love

By Awadhesh Sharma

न्यूज एन व्यूज फॉर नेशन

Leave a Reply