Sun. Nov 27th, 2022

सूतक के दौरान कई कार्यों को वर्जित बताया गया है. आइए काशी के ज्योतिष मर्मज्ञ से जानते हैं कि कब शुरू हो रहा है चंद्रग्रहण का सूतक और इस दौरान क्या करने से बचना चाहिए?

चंद्रग्रहण का सूतक ग्रहण लगने के 09 घंटे पहले शुरू हो जाता है. ज्योतिष मान्यतानुसार चंद्रग्रहण का सूतक सुबह 08 बजकर 10 मिनट से शुरू हो जा रहा है. चंद्रग्रहण के दौरान सभी प्रकार के मांगलिक कार्य, पूजा पाठ, खाना, पीना वर्जित होता है. ऐसे में आप सुबह 08 बजकर 10 मिनट से पहले ये सारे काम निपटा लें. हालांकि रोगी, वृद्धि व बच्चे खाना-पीना कर सकते हैं. सूतक काल शुरू होने से पहले खाने-पीने की चीजों में पहले से ही तोड़े गए तुलसी के पत्ते को डालकर रखें. वहीं यदि पका भोजन है तो उसे जानवर को खिला दें. चंद्रग्रहण सूतक के दौरान गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर नहीं जाना चाहिए. चंद्रग्रहण का सूतक शुरू होने से पहले घर के मंदिर के कपाट बंद कर दें. 

Spread the love

Leave a Reply