Sat. Feb 4th, 2023

भिलाई 3 स्थित डाँ खूबचंद बघेल शासकीय पीजी काँलेज के वाणिज्य विभाग के द्वारा बौद्धिक संपदा अधिकार विषय पर एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन किया गया। एसएसआईपीएमटी कें डाँ राकेश रंजन प्रवीर ने भी इस पर व्याख्यान दिया। डाँ साकेंत ने विषय विशेषज्ञ के रुप में कहा कि बौद्धिक संपदा में समय के साथ परिवर्तन आ गया है। वर्तमान में इस प्रकार की संपति के क्षेत्र का महत्व बढ़ गया है। आज हर व्याक्ति जो अनुसंधान करता हैं और उसे पंजीकृत करा लेेता हैं। तो उस पर अनुसंधानकर्ता का ही होता हैं। कोई दूसरा यदि उसे यूज करना चाहता हैं तो उसे संबंधित व्यक्ति से अनुमति लेनी होगी और उसे निर्धारित राशि का भुगतान करना पडेगा। इतना ही नही यदि कोई अनाधिकृत तौर पर इसका इस्तेमाल करता है तो उस पर केस भी दायर किया जा सकता है। पूरे व्याख्यान में विधार्थियों के साथ साथ शिक्षकों ने भी बहुत रुचि दिखाई। कार्यक्रम का संचालन डाँ बघेल ने किया डाँ दुबे ने व्याख्यान को बेहद महत्वपूर्ण बताते हुए छात्रोे को इस ओर आगे बढ़ने की सलाह दी है।

Spread the love

Leave a Reply