Sun. Nov 27th, 2022

भिलाई इस्पात संयंत्र के नगर सेवा विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों के परिवार को अपाहिज करने धमकी दी गई है। अफसरों ने इसकी शिकायत भिलाई नगर थाना सहित एसपी और कलेक्टर से की है। उनके मुताबिक शरद मिश्रा नाम के जिस युवक ने उन्हें धमकी दी है। उससे उन्हें जान-माल के नुकसान का भय है। भिलाई इस्पात संयंत्र के नगर सेवा विभाग के अंतर्गत प्रवर्तन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि उनकी ओर से सिविक सेंटर के दो प्रमुख पहुंच मार्गों का चौड़ीकरण किया जा रहा है। शनिवार सुबह 11 बजे को भी बीएसपी की टीम वहां कार्रवाई करने गई थी। टीम वहां के सबसे चर्चित चायवाले नन्हे टी स्टॉल को हटाने की कार्रवाई कर रही थी। दुकान के सामने सड़क पर ही गाड़ियां पार्क कर दी जाती हैं। इससे सड़क जाम होती है। जैसे ही बीएसपी की टीम ने बेजा कब्जा हटाना शुरू किया तो लोगों की भीड़ जुट गई। कब्जेदारों ने तो कार्रवाई का कोई विरोध नहीं किया, लेकिन कुछ लोग अपनी राजनीतिक पहुंच की धमकी देकर कार्रवाई को बाधित करने का प्रयास कर रहे थे। फिर भी बीएसपी की कार्रवाई नहीं रुकी और टी स्टॉल को वहां से हटा दिया गया।

धमकी देने से डर कर भागे बीएसपी कर्मी
बीएसपी के अधिकारियों का आरोप है कि जब टीम वहां कार्रवाई कर रही तो शरद मिश्रा नाम का युवक आया और धमकी देने लगा। उसने इस कार्रवाई का दुष्परिणाम भुगतने की धमकी दी। उनसे कहा कि वह कार्रवाई करने पहुंचे सभी लोगों के परिजन को अपाहिज कर देगा। धमकी से डरकर प्रवर्तन विभाग के सभी अधिकारी कर्मचारी वहां से भाग गए।
टी स्टॉल संचालक ने कहा धमकी देने वाले से कोई संबंध नहीं नन्हे टी स्टॉल के संचालक ने बीएसपी के प्रवर्तन विभाग को लिखित में दिया है कि धमकी देने वाला युवक न तो उसके टी स्टॉल का संचालक है और न उससे और उसके किसी भी कर्मचारी से उसका कोई संबंध है।

Spread the love

Leave a Reply