Sun. Nov 27th, 2022

सीआरपीएफ के पूर्व अफसर कहते हैं, ये आयोजन मोदी सरकार की खर्च घटाओ नीति को झटका देता है। डीजी की विदाई पर करोड़ों रुपये खर्च होंगे। ये पैसा किसी रचनात्मक कार्य पर खर्च नहीं हो रहा। दूसरा, फेयरवेल परेड में बल के अधिकारियों और जवानों का समय व्यर्थ होगा देश के सबसे बड़े केंद्रीय अर्धसैनिक बल ‘सीआरपीएफ’ के डीजी कुलदीप सिंह की फेयरवेल के लिए जोरशोर से तैयारी शुरू हो गई हैं। उनका कार्यकाल 30 सितंबर को खत्म हो रहा है। गुरुग्राम स्थित बल के ग्रुप सेंटर पर फेयरवेल परेड के लिए विभिन्न हिस्सों से लगभग 900 जवान एक सितंबर से पहले ही रिपोर्ट कर चुके हैं।इस बाबत बल मुख्यालय द्वारा 22 अगस्त को आदेश जारी किया गया था। इस परेड में कुल आठ कंटिंजेंट ‘9/9 ब्लॉक फॉरमेशन में हिस्सा लेंगे। बल के सैंकड़ों अधिकारी भी ग्रुप सेंटर पर पहुंचेंगे। सीआरपीएफ के पूर्व अफसर कहते हैं, ये आयोजन मोदी सरकार की खर्च घटाओ नीति को झटका देता है। डीजी की विदाई पर करोड़ों रुपये खर्च होंगे। ये पैसा किसी रचनात्मक कार्य पर खर्च नहीं हो रहा। दूसरा, फेयरवेल परेड में बल के अधिकारियों और जवानों का समय व्यर्थ होगा।

Spread the love

Leave a Reply