Sat. Feb 4th, 2023

जिला पदाधिकारी कुंदन कुमार ने डीआरसीसी का औचक निरीक्षण किया 

बेतिया। जिला पदाधिकारी कुंदन कुमार ने जिला निबंधन एवं परामर्श केन्द्र (डीआरसीसी) का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के क्रम में जिला पदाधिकारी ने क्रमवार सभी काउंटरों का निरीक्षण किया। इस दौरान विभिन्न कार्यों से आये लाभुकों/छात्रों रामनगर के मोहित राज, बगहा के दीपक कुमार, मझौलिया के सुरेश ठाकुर व माधो ठाकुर (अभिभावक) से बातचीत किया। केवाईपी, बीएससीसी, एसएचए से संबंधित जानकारी भी प्राप्त किया।

लंबित मामलों को अविलंब करें निष्पादन, जिला की रैकिंग बढ़ाएं

जिला पदाधिकारी ने लाभुकों/छात्रों/अभिभावकों से कहा कि डीआरसीसी में सभी सुविधाएं निःशुल्क है। विभिन्न योजनाओं का लाभ प्राप्त करने में किसी को एक रुपया नहीं देना है, अगर कोई व्यक्ति किसी भी प्रकार की डिमांड करता है तो, इसकी सूचना तुरंत दें, उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी। जिला पदाधिकारी ने प्रबंधक, डीआरसीसी को निदेश दिया कि डीआरसीसी में विभिन्न योजनाओं का लाभ लेने को आने वाले छात्रों/लाभुकों को सुलभतापूर्वक जानकारी दें। किसी भी स्थिति में बिचौलियों को हावी नहीं होने दें। छात्रों को योजनाओं से लाभान्वित करने के क्रम में अगर बिचौलियों की संलिप्तता सिद्ध होने पर संबंधित व्यक्ति के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने निदेश दिया कि केवाईपी (कुशल युवा कार्यक्रम), बीएससीसी (बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना) एवं एसएचए (मुख्यमंत्री निश्चय स्वयं सहायता भत्ता योजना) से संबंधित लंबित मामलों का निष्पादन अविलंब कराते हुए जिला की रैकिंग को बढ़ाएं। लापरवाही, शिथिलता एवं कोताही बरतने वाले पदाधिकारियों, कर्मियों के विरुद्ध नियमानुकूल सख्त कार्रवाई की जायेगी।  जिला योजना पदाधिकारी को निदेश दिया गया कि एसएचए (मुख्यमंत्री निश्चय स्वयं सहायता भत्ता योजना) के लाभुकों की रेंडमली जांच सुनिश्चित करायें। उन्होंने कहा कि केवाईपी, बीएससीसी एवं एसएचए का व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार कराना सुनिश्चित करें, जिससे अधिक से अधिक छात्रों को लाभान्वित किया जा सके। इसके लिए विशेष शिविर का आयोजन भी किये जाएं तथा छात्रों को लाभान्वित करें।

डीएम ने दिया कई पदाधिकारियों से शोकॉज, वेतन कटौती करने का निदेश, डीआरसीसी में बिचौलियों का दबदबा 

प्रबंधक, डीआरसीसी ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2022-23 में अबतक बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना से 1040 छात्रों को लाभान्वित कर दिया गया है। मुख्यमंत्री निश्चय स्वयं सहायता भत्ता योजना से 907 तथा कुशल युवा कार्यक्रम से 4572 छात्रों को लाभान्वित किया गया है। लंबित मामलों का निष्पादन तेजी के साथ कराया जा रहा है। जिला पदाधिकारी डीआरसीसी की उपस्थिति पंजी सहित अन्य पंजियों का गहन निरीक्षण किया गया। उपस्थिति पंजी अद्यतन नहीं रहने को लेकर प्रबंधक, डीआरसीसी को शोकॉज करने का निदेश दिया गया। कुशल युवा कार्यक्रम में कम उपलब्धि को लेकर सहायक प्रबंधक, कुशल युवा कार्यक्रम से शोकॉज सहित 10 प्रतिशत वेतन कटौती करने को निदेशित किया। स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड से संबंधित 97 स्वीकृत आवेदन लंबित रखने तथा 238 एकरारनामा लंबित रखने को लेकर सहायक प्रबंधक, वित्त निगम को शोकॉज, एक दिन की का वेतन कटौती सहित 10 प्रतिशत वेतन कटौती करने का निदेश जिला पदाधिकारी ने दिया। इस अवसर पर उप विकास आयुक्त अनिल कुमार, महाप्रबंधक, जिला उद्योग केन्द्र, डॉ अनिल कुमार सिंह, विशेष कार्य पदाधिकारी बैद्यनाथ प्रसाद सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Spread the love

By Awadhesh Sharma

न्यूज एन व्यूज फॉर नेशन

Leave a Reply