Sat. Mar 2nd, 2024

व्यक्ति आज्ञामता के कारण बुराइयों में ज्यादा बंधा है। या अपने उन कमजोरियों के कारण जिनका ज्ञान होते हुए भी नही सुधार पाता। दोनो ही कारण लागू होते है। पर आज के हालात में अज्ञान के तुलना में मानसिक रुप से दुर्बल हो जाना बुराइयो के अधीन होने जाने का ज्यादा बड़ा कारण है।

विगत कुछ सालो में कई सामाजिक संस्थाओं एवं प्रशासन द्वारा ऐसे शिक्षाप्रद अभियान चलाए गए है। जिनसे सामान्य व्यक्ति भी बौद्धिक स्तर पर जाना गया है कि किन कर्मो का क्या परिणाम निकलेगा। इसके बाद भी आच्श्रर्यजनक रुप से समाज का एक बड़ा वर्ग उन बुराईयो से बाहर नही निकल पा रहा है। जब कारण पूछता है। तो कहता है। हम क्या करे।

Spread the love

Leave a Reply