Fri. Jun 21st, 2024

भिलाई रुंगटा आर 1 इंजीनियरिंग काँलेज में सोमवार को थ्रीडी प्रिटिंग के नया  टेक्नोलाँजी को लेकर कार्यशाला में  वर्कशाॅप कराए गए है। वर्कशाॅप को लेकर  काँलेज के मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग और नवीनीकरण एंड बोरिंग,  इन्क्यूबेशन सेल के संयुक्त तत्वावधान में हुआ है। इसमें शामिल हुआ 30 फैकल्टी संकाय  सदस्यों को थ्रीडी प्रिंटिग के लिए उपयुक्त डिजाइन का अभ्यास कराया गया।

डायरेक्टर इनोवेशन एंड इन्क्यूबेशन डाँ मनोज वर्गीस नें कहा कि 3 डी प्रिंटर का उपयोग प्रोस्थेटिक्स और अन्य चिकित्सा वस्तुओं को बनाने के साथ साथ निर्माण के लागत को कम करने के तरीकों के लिए भी किया जा सकता है।

Spread the love

Leave a Reply