Tue. May 21st, 2024

1 मई को एक अनपढ़ निरक्षर, ठग ने एमटेक इंजीनियर से KYCनवीनीकरण   करने के नाम पर लगभग  सवा दो लाख रुपए  ठगा है । जब यह घटना दुर्ग एसपी के विचाराधिकार में आया तो उन्होंने पीड़ित को पुलिस कंट्रोल रूम बुलाया और ठगी का लाइव डेमो किया। एमटेक इंजीनियर ने बताया की इस तरह के  छोटे -छोटे  गलती के  वजह से उसके अकाउंट से 10-12 मिनट के अंदर लाखों रुपए निकाल लिया ।

तालपुरी A-ब्लाक रुआबान्धा रहनेवाला गौरव रॉय एमटेक इंजीनियर है। वो मारुती सुजुकी भाटागांव रायपुर में एडवाइजर के पोस्ट पर काम करता है। उसने बताया कि वो काफी दिनों से अपने पैन कार्ड का केवायसी अपडेट करना चाह रहा था। 1 मई की दोपहर करीब 2 उसके मोबाइल पर एक फोन आया। कॉल करने वाले ने खुद को एसबीआई का कार्यकर्त्ता बताते हुए कहा कि अगर उसका केवायसी अपडेट नहीं हुआ  तो उसका खाता  बंद हो जाएगा।

इसके बाद उसने उसके नंबर पर एक लिंक भेजा और केवायसी अपडेट करने के लिए कहा। गौरव डर गया और जल्दबाजी में केवायसी अपडेट करने के लिए उस लिंक को खोला। लिंक खोलने के बाद पहले उसका पैन कार्ड नंबर मांगा और फिर O T P  भेजा इसके बाद आधार कार्ड नंबर और उसका  । गौरव ने जैसे ही दोनों O T P  बताए, सामने वाले ने फोन काट दिया। थोड़ी देर बाद गौरव के मोबाइल पर मैसेज आया कि उसके खाते से 2.25 लाख निकाल ली गई है। इसके बाद उसने तुरंत मामले की शिकायत भिलाई नगर थाने में दर्ज कराया ।

Spread the love

Leave a Reply