Wed. Feb 21st, 2024
पटना : एम.एस.एम.ई.विकास कार्यालय, पटना, एम.एस.एम.ई मंत्रालय, भारत सरकार और एनटीपीसी, नवीनगर के संयुक्त तत्वावधान में दो दिवसीय सीपीएसई स्तरीय विक्रेता विकास कार्यक्रम सह औद्योगिक प्रदर्शनी का उद्घाटन एनटीपीसी नवीनगर के सभागार में गुरुवार (16 मार्च) किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि अभेंद्र मोहन सिंह उप विकास आयुक्त औरंगाबाद ने किया। इस अवसर पर अभेंद्र मोहन सिंह ने एम.एस.एम.ई- विकास कार्यालय, पटना ने कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए बधाई दी एवं बिहार में एम.एस.एम.ई उद्यमों के लिए प्रचुर संभवनाओं पर बल दिया।
उन्होंने केंद्रीय उपक्रमों के कुल खरीदारी मंद, सूक्ष्म एवं लघु उद्यमों की भागीदारी सुनिश्चित करने का आह्वान भी किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कार्यालय के निदेशक, प्रदीप कुमार, आईईडीएस ने किया। उन्होंने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए, उद्यमियों को अपने वार्षिक खरीद नीति अंतर्गत केन्द्र सरकार के सभी उपक्रमों एवं विभागों को निर्धारित 25 प्रतिशत सूक्ष्म एवं लघु उद्यमों से क्रय के निर्धारित लक्ष्य का वर्णन किया। जिसके अंतर्गत महिला एवं एससी, एसटी उद्यमियों के लिए विशेष प्रावधान को प्रमुखता से बताया। उन्होंने  बताया कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में बने रहने के लिए वर्तमान में एम.एस.एम.ई को आधुनिकीकरण करने की आवश्यकता है। इस अवसर पर एनटीपीसी, औरंगाबाद के महाप्रबंधक अनिल कुमार पपनेजा विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित थे एवं उन्होंने अपने उद्बोधन में एनटीपीसी द्वारा सूक्ष्म एवं लघु उद्यमों से क्रय की जाने वाली वस्तुओं का विवरण दिया। उन्होंने सूक्ष्म एवं लघु उद्यमों से पावर ग्रिड के विश्वसनीय वेंडर के रुप में निबंधन होने का आह्वान किया। कार्यक्रम में डिकी, बिहार चैप्टर के उपाध्यक्ष नन्द किशोर पासवान, लघु उद्योग भारती, बिहार चैप्टर के अध्यक्ष रवींन्द्र प्रसाद सिंह, जिला उद्योग केंद्र, औरंगाबाद के महाप्रबंधक, सत्येन्द्र चौधरी, वर्चुअल मोड से सिडबी, पटना की महाप्रबंधक अनुभा प्रसाद भी विशिष्ठ अतिथि के रुप में उपस्थित रहे, उन्होंने अपने विचार व्यक्त किया। कार्यक्रम में  एनटीपीसी, नवीनगर के अतिरिक्त पावर ग्रिड, आईओसीएल, बरौनी रिफाइनरी, हिन्दुस्तान उर्वरक बरौनी, एनएसआईसी, एवं जमालपुर रेल कारखाना के पदाधिकारी भी शामिल हुए। उन्होंने अपनी खरीद नीति के बारे में पावर प्वाइंट के माध्यम से तकनीकी सत्र में विस्तार से विवरण दिया और उद्यमियों के साथ बी टू बी सत्र में भी सहभागी रहें। उद्यमियों को विक्रेता पंजीकरण प्रक्रिया के बारे में एवं इस विभाग के की जाने वाली क्रय में सूक्ष्म एवं लघु उद्यमों को मिलने वाले अवसर पर विस्तार से बल दिया। कार्यक्रम का संचालन कार्यालय के सहायक निदेशक, संजीव आजाद ने किया। कार्यक्रम में कार्यालय के सहायक निदेशक, सम्राट एम झा ने पावर प्वाइंट प्रेजेन्टेशन के माध्यम से सार्वजनिक खरीद नीति-2012 पर विस्तृत विवरण दिया। कार्यालय के सहायक निदेशक, सम्राट एम. झा ने एम.एस.एम.ई मंत्रालय के पीएमएस योजना पर जानकारी दी एवं धन्यवाद ज्ञापन भी किया।
Spread the love

By Awadhesh Sharma

न्यूज एन व्यूज फॉर नेशन

Leave a Reply