Sun. Feb 25th, 2024

 


योगापट्टी थाना क्षेत्र के फतेहपुर में युवक का पंखा से लटका शव बरामद

 

जय नारायण की रिपोर्ट 

बेतिया: पश्चिम चम्पारण जिला अंतर्गत बेतिया पुलिस के योगापट्टी थाना क्षेत्र के फहतेपुर गांव निवासी अनिरुद्ध साह के मकान में एक युवक का शव बरामद किया गया है। युवक का शरीर पंखा से लटका पाया गया। वहां के लोग बताते हैं कि लगभग छव माह से किराया के कमरा में छ्ठू यादव का पुत्र विशेश्वर रहता आया। वह स्वतंत्र माइक्रो फाइनेंस नंन बैंकिंग की शाखा योगापट्टी में कार्यरत बताया गया। सूत्र बताते हैं कि मृतक बगहा दो के पटखौली ओपी थाना क्षेत्र के बांसगांव निवासी छटु यादव का 30 वर्षीय पुत्र विशेश्वर कुमार है। उल्लेखनीय है कि स्वतंत्र माइक्रो फाइनेंस नंन बैंकिंग की शाखा योगापट्टी में कार्यरत बताया गया है। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंच कर विशेश्वर कुमार के पंखा से लटके शव को बरामद कर लिया और उस कमरा को सील कर दिया, जहां से शव बरामद किया गया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आत्म हत्या का कारण आर्थिक दबाव बताया गया है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मृत्यु के कारण का खुलासा नहीं किया जा सका है। योगापट्टी थानाध्यक्ष मनोज कुमार प्रसाद ने बताया कि संदिगध्य लोगों से पुलिस अभिरक्षा में पूछताछ की जा रही है। इसके लिए छानबीन प्रारम्भ की जा चुकीं हैं। शीघ्र ही विश्वेश्वर की मौत की गुत्थी सुलझा ली जाएगी। गुप्त सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नाम नहीं छापने के शर्त पर एक एनबीएफसी के कर्मी ने बताया कि जिस नन बैंकिंग कंपनी में कार्यरत रहा, उसके वरीय पदाधिकारी के मानसिक उत्पीड़न का शिकार रहा विशेश्वर मौत को गले लगा लिया।
बेतिया: पश्चिम चम्पारण जिला अंतर्गत बेतिया पुलिस के योगापट्टी थाना क्षेत्र के फहतेपुर गांव निवासी अनिरुद्ध साह के मकान में एक युवक का शव बरामद किया गया है। युवक का शरीर पंखा से लटका पाया गया। वहां के लोग बताते हैं कि लगभग छव माह से किराया के कमरा में छ्ठू यादव का पुत्र विशेश्वर रहता आया। वह स्वतंत्र माइक्रो फाइनेंस नंन बैंकिंग की शाखा योगापट्टी में कार्यरत बताया गया। सूत्र बताते हैं कि मृतक बगहा दो के पटखौली ओपी थाना क्षेत्र के बांसगांव निवासी छटु यादव का 30 वर्षीय पुत्र विशेश्वर कुमार है। उल्लेखनीय है कि स्वतंत्र माइक्रो फाइनेंस नंन बैंकिंग की शाखा योगापट्टी में कार्यरत बताया गया है। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंच कर विशेश्वर कुमार के पंखा से लटके शव को बरामद कर लिया और उस कमरा को सील कर दिया, जहां से शव बरामद किया गया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आत्म हत्या का कारण आर्थिक दबाव बताया गया है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मृत्यु के कारण का खुलासा नहीं किया जा सका है। योगापट्टी थानाध्यक्ष मनोज कुमार प्रसाद ने बताया कि संदिगध्य लोगों से पुलिस अभिरक्षा में पूछताछ की जा रही है। इसके लिए छानबीन प्रारम्भ की जा चुकीं हैं। शीघ्र ही विश्वेश्वर की मौत की गुत्थी सुलझा ली जाएगी। गुप्त सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नाम नहीं छापने के शर्त पर एक एनबीएफसी के कर्मी ने बताया कि जिस नन बैंकिंग कंपनी में कार्यरत रहा, उसके वरीय पदाधिकारी के मानसिक उत्पीड़न का शिकार रहा विशेश्वर मौत को गले लगा लिया।

Spread the love

By Awadhesh Sharma

न्यूज एन व्यूज फॉर नेशन

Leave a Reply