Thu. Dec 1st, 2022

जंक्शन से दिल्ली रूट की ट्रेनों में बुधवार को भीड़ कुछ  ज्यादा ही रही। दिल्ली जाने वाली प्रयागराज एक्सप्रेस की बात करें तो इसके स्लीपर में प्रतीक्षा सूची 355 तो थर्ड एसी में प्रतीक्षा सूची 56 पर पहुंच गई।

दिवाली और गोवर्धन पूजा मनाने के बाद अपने गंतव्य की ओर लौटने वालों का मजमा बुधवार को प्रयागराज जंक्शन पर लगा। रूट चाहे दिल्ली का हो या फिर मुंबई का। प्रयागराज से सभी रूटों की ओर जाने वाली ट्रेनों में खासी भीड़ रही। भीड़ का आलम यह रहा कि दिल्ली जाने वाली प्रयागराज एक्सप्रेस में प्रतीक्षा सूची का आंकड़ा लंबे समय बाद 350 को पार कर गया। पुरुषोत्तम एक्सप्रेस, शिवगंगा, रीवा आदि ट्रेनों के स्लीपर और थर्ड एसी में नो रूम रहा। जंक्शन से दिल्ली रूट की ट्रेनों में बुधवार को भीड़ कुछ  ज्यादा ही रही। दिल्ली जाने वाली प्रयागराज एक्सप्रेस की बात करें तो इसके स्लीपर में प्रतीक्षा सूची 355 तो थर्ड एसी में प्रतीक्षा सूची 56 पर पहुंच गई। इस रूट की पुरुषोत्तम, महाबोधि एक्सप्रेस, ब्रह्मपुत्र मेल आदि ट्रेनों के स्लीपर में नो रूम रहा। यही स्थिति मुंबई, बंगलूरू, बीकानेर रूट की ट्रेनों की भी रही। प्रयागराज-बीकानेर एक्सप्रेस के स्लीपर में भी लंबे समय बाद प्रतीक्षा सूची 250 को पार कर गई।  मेरठ जाने वाली संगम और नौचंदी में भी  लंबी प्रतीक्षा सूची रही। बताया जा रहा है कि बृहस्पतिवार को भैया दूज मनाने के बाद प्रयागराज से विभिन्न रूट की ओर जाने वाली ट्रेनों में भी लंबी प्रतीक्षा सूची है। इस दौरान दिल्ली जाने वाली प्रयागराज एक्सप्रेस, हमसफर एक्सप्रेस, पुरुषोत्तम एक्सप्रेस, रीवा एक्सप्रेस, बनारस-नई दिल्ली सुपरफास्ट एक्सप्रेस, पूर्वा एक्सप्रेस और मुंबई रूट की काशी, कामायनी, रत्नागिरि, गोदान, पवन एक्सप्रेस आदि ट्रेनों की सभी श्रेणियों में लंबी प्रतीक्षा सूची है। उधर, चेन्नई जाने वाली गंगा कावेरी, संघमित्रा एक्सप्रेस में भी अगले एक माह तक किसी भी श्रेणी में कंफर्म  बर्थ उपलब्ध नहीं है। पांच मिनट में ही फुल हो गईं तत्काल की सीटें दिवाली  मनाने के बाद आए तमाम लोगों की वापसी की राह मुश्किल हो गई है। बुधवार को काफी लोग तत्काल कोटे की सीट पाने के लिए सुबह से ही जंक्शन, रामबाग, नैनी आदि रेलवे स्टेशनों के आरक्षण काउंटर पर लाइन में खड़े रहे। लेकिन, चुनिंदा लोगों को ही तत्काल कोटे की सीट मिल पाई। सलोरी के बृजेश कुमार ने बताया कि वह प्रयाग जंक्शन पहुंचे, लेकिन वहां लंबी लाइन थी। जब तक उनका नंबर आता, तब तक दिल्ली रूट की सभी ट्रेनों में तत्काल की  सीट भर गई। बेनीगंज के उत्कर्ष शर्मा भी जंक्शन पर सुबह आठ बजे पहुंचे। लेकिन, दस बजे काउंटर खुलने के बाद महज पांच मिनट में ही बृहस्पतिवार के लिए हमसफर, प्रयागराज एक्सप्रेस के तत्काल कोटे की सीट भर गई।

Spread the love

Leave a Reply