Sun. Nov 27th, 2022

दुर्ग शहर में निर्माणाधीन रायपुर नाका अंडरब्रिज को खोलने की कोशिश की गई है। कुछ लोग ऑटो से आए और गैस कटर से बेरिकेड्स को काटकर चले गए। बता दें अबतक इस अंडरब्रिज का उद्घाटन नहीं हो पाया है। पहले इस अंडर ब्रिज का उद्घाटन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से कराया जाना था। भाजपा पार्षद अरुण सिंह ने इसे आम जनता के सहयोग से खोलने की कोशिश की तो पुलिस ने लाठी चार्ज उन्हें रोक दिया। इसके बाद दुर्ग विधायक अरुण वोरा ने उद्घाटन की डेट तयकर कार्ड छपवा दिए। इस कार्यक्रम को रेलवे ने रोक दिया। अब फिर से इस अंडर ब्रिज को चोरी से खोलने की तैयारी की जा रही है। रेलवे प्रबंधन की ओर से मना करने के बाद भी गैस कटर लेकर अंडरब्रिज को खोलने की कोशिश का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। पार्षद अरुण सिंह ने कहा कि ये काम दुर्ग विधायक की ओर से करवाया जा रहा है। अरुण सिंह के मुताबिक जब उन्होंने वार्ड की जनता को लेकर अंडरब्रिज खोलने की कोशिश की थी तो पुलिस ने उनके ऊपर लाठी भांजी थी। कई लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं के तहत अपराध दर्ज किया। विधायक ने खुद कहा कि अंडरब्रिज अभी अधूरा है। जब तक रेलवे नहीं कहता उसे नहीं खोला जा सकता। अभी भी रेलवे के अधिकारी कह रहे हैं कि अंडरब्रिज अधूरा है। ऐसे में विधायक को उद्घाटन को लेकर क्या जल्दी पड़ी है।

रायपुर नाका अंडरब्रिज का उद्घाटन करने के लिए विधायक अरुण वोरा ने 12 अक्टूबर शाम 5 बजे की डेट और समय तय किया था। इसके लिए आमंत्रण कार्ड भी छपवा दिया गया था। उद्घाटन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू थे। अध्यक्षता परिवहन मंत्री मो. अकबर को करना था। विशिष्ट अतिथि के रूप में खुद दुर्ग विधायक अरुण वोरा और सांसद विजय बघेल सहित सांसद सरोज पाण्डेय सहित अन्य कांग्रेस के नेता का नाम था। उद्घाटन से पहले ही रेलवे ने एनओसी देने से मना कर किया। अब यह अंडरब्रिज दुर्ग विधायक के लिए प्रतिष्ठा का सवाल बन गया है।

सिकोला भाठा अंडरब्रिज को बिना उद्घाटन के खोला
पार्षद अरुण सिंह का कहना है कि रेलवे ने निर्माण पूरा होने की अभी मंजूरी नहीं दी है। विधायक अंडरब्रिज का उद्घाटन नहीं कर पाए तो अब अपने लोगों से उसे जबरदस्ती खुलवा रहे हैं। सिकोलाभाठा अंडरब्रिज को उनके लोगों ने खोल दिया। इसके बाद रायपुर नाका अंडरब्रिज को खोलने की कोशिश की गई। इसके बाद भी पुलिस ने न तो मामला दर्ज किया और न यह जांच कर रही है कि आखिर किन लोगों ने और क्यों खोला अंड ब्रिज।
समय पर अंडरब्रिज न खुलने से जनता में रोष
यहां के रहवासी और व्यवसाई धनेंद्र सिंह का कहना है कि रायपुर नाका अंडरब्रिज से हर दिन 20-25 हजार लोगों का आना जाना होगा। ऐसे में इसे समय पर न खोले जाने से दुर्ग और भिलाई वासियों में रोष है। लोगों का कहना है कि अंडरब्रिज जिले का विकास है। इसे राजनीति का केंद्र बनाना सही नहीं है।

Spread the love

Leave a Reply