Fri. Dec 2nd, 2022

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में पुलिस ने एक ऐसी लुटेरी दुल्हन को गिरफ्तार किया है, जो शादी के चार दिन बाद ही पति के घर से पैसा और जेवरात लेकर फरार हो जाती थी। इतना ही नहीं, इस गिरोह के सदस्य पुलिस कार्रवाई का डर दिखाकर भी लोगों से पैसा वसूलते थे। पुलिस ने उसके साथी को भी गिरफ्तार किया है। इस गिरोह में कई आरोपी शामिल हैं। पुलिस सभी की तलाश में जुट गई है।  एसपी सिटी राजेश कुमार ने बताया कि थाना चिलकाना के गांव पंचकुआ निवासी प्रवीण ने गीता उर्फ सलोनी निवासी मोहल्ला टांडा जिला उधमसिंह नगर, अशफाक, नाजमा, संजय निवासी गांव पदार्था थाना पथरी, कंवर सिंह, राजकुमार निवासी कुंजा बहादुरपुर जनपद हरिद्वार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने छानबीन शुरू की तो मंगलवार को लुटेरी दुल्हन अपने साथी के साथ हत्थे चढ़ गई। पुलिस दोनों को थाने लेकर पहुंची जहां उनसे पूछताछ की गई। आगे पढ़ें कैसे साजिश रचकर युवाओं को फंसाती और फिर शादी के चार दिन बाद ही सामान व जेवरात लूटकर फरार हो जाती थी सलोनी।

प्रवीण ने बताया था कि आरोपियों ने षड़यंत्र के तहत फर्जी आधार कार्ड, फर्जी नाम व पता बताकर और तीन लाख रुपये लेकर गीता उर्फ सलोनी से विवाह कराया था। इसके बाद आरोपियों झूठे मामले में फंसाने की धमकी देकर पैसो की मांग की थी।एसपी ने बताया कि गिरोह को पकड़ने के लिए पुलिस टीम को लगाया गया, जिसमें गीता उर्फ सलोनी व अशफाक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने पुलिस को बताया कि वह गांवों ऐसे लोगों की तलाश करते थे, जिनके परिवार में कोई युवक या व्यक्ति शादी के लिए लड़की तलाश कर रहा हो।

गीता शादी के तीन-चार दिन बाद पति से कहती थी कि उसकी मां की तबियत खराब है। इसलिए मां से मिलने जाना है। अगर परिवार का कोई सदस्य साथ चलता था तो आरोपी रास्ते में उसे चाय में नशे की दवाई डालकर पिला देते थे। इसके बाद गीता और उसके साथी पैसा व जेवरात लेकर फरार हो जाते थे।

Spread the love

Leave a Reply