Thu. Dec 1st, 2022

रायपुर में एक दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी ने खुदकुशी कर ली। उसने नवा रायपुर स्थित मंत्रालय परिसर में जान दे दी। कर्मचारी की इस मौत से अब दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों के संगठनों में आक्रोश है। बताया जा रहा है कि छंटनी का शिकार हुआ कर्मचारी बेरोजगारी से परेशान था, और इसी वजह से उसने जान दे दी है। राखी थाने के प्रभारी लक्ष्मी जायसवाल ने बताया कि खुदकुशी करने वाले कर्मचारी का नाम योगेश वानखेड़े हैं। योगेश भिलाई का रहने वाला था। वो मंत्रालय के फूड डिपार्टमेंट में डेली वेज में काम किया करता था। कुछ दिनों से वो अपने काम और वेतन को लेकर परेशान था। योगेश के घरवालों ने भी इसकी पुष्टि की है। मंगलवार को योगेश अपने काम के सिलसिले में ही फूड डिपार्टमेंट के अधिकारियों से मिलने आया था। वो यहां ड्राइवर की नौकरी करता था। परिजनों के मुताबिक कुछ दिन पहले उसे नौकरी से हटा दिया गया। इसी बात को लेकर योगेश परेशान था। उसका कुछ वेतन भी बकाया था, पैसे नहीं मिलने की वजह से वो तनाव में था। जिस पार्किंग में वो विभाग की गाड़ी पार्क करता था वहीं एक पेड़ से अपने गमछे से फंदा बनाकर झूल गया। युवक के शव काे पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। योगेश के मौत की खबर सोशल मीडिया के जरिए मंत्रालय के दूसरे दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को मिली। जिसके बाद सभी कर्मचारी एक जगह जमा होकर नारेबाजी की है। पुलिस के पहुंचने पर सभी को अपने-अपने विभागों में भेजा गया। इस मामले में जांच कर दोषियों पर कार्रवाई की मांग की जा रही है। पुलिस इस सुसाइड केस में फूड डिपार्टमेंट के अधिकारियों से भी पूछताछ करेगी। जिन्होंने योगेश को काम से हटाया था।

Spread the love

Leave a Reply