Fri. Dec 2nd, 2022

बेतिया : पश्चिम चम्पारण जिला अंतर्गत वाल्मीकि व्याघ्र परियोजना स्थित मंगुराहा रेंज के हरपुरघोठा वार्ड नंबर 13 के पश्चिम सरेह में शावक के साथ मादा रॉयल बंगाल टाइगर (बाघिन) देखे जाने के बाद ग्रामीण भयभीत हैं। हरपुर घोठा के वार्ड सदस्य सिकंदर कुमार के अनुसार मंगलवार पूर्वाह्न 10:00 बजे में माधुरी देवी, रुक्मिणी देवी, चंदर चौधरी, हरेंद्र यादव, शंभू यादव, छोटा मुखिया गन्ना के खेत में पशु चारा (घास) लेने गए। उसी क्रम में मादा बाघ को शावकों के साथ देखा गया। पशु चारा लेने गए, उपर्युक्त सभी छुपते छुपाते भागकर घर पहुंचे। ग्रामीणों के अनुसार मादा बाघ विगत तीन दिन से सरेह मे शावकों के साथ देखी जा रही है। शावकों के साथ मादा बाघ की गतिविधि को देखते हुए हरपुरघोठा, सेमरी डुमरी, जम्हौली, हरकटवा, रुपवलिया गांव के ग्रामीणों में भय व्याप्त है। उनका कहना है कि मादा बाघ कभी किसी गांव में घुस सकती है और ग्रामीणों व पशुओं का संहार कर सकती है। मादा बाघ की चहल कदमी को लेकर लोग अपने मवेशियों के लिए चारा लाने और खेत खलिहान जाना दुश्वार हो गया है। जंगली जानवरों के आतंक से जंगल क्षेत्र के आवासीय क्षेत्र के लोग भयाक्रांत है। इस संबंध में मंगुराहा रेंजर ने मीडिया कर्मियों को बताया कि वन कर्मियों को भेजकर मादा बाघ को ट्रैक कर जंगल की तरफ मोड़ने का कार्य किया जा रहा है ।

Spread the love

By Awadhesh Sharma

न्यूज एन व्यूज फॉर नेशन

Leave a Reply