Fri. Dec 2nd, 2022

सियासत के कई रंग है। सुरक्षा ना मिली तो नेता कहते हैं कि प्रतिशोध की राजनीति। सुरक्षा मिलने पर अरेस्ट क्यों कर रहे हैं। दरअसल आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल गुजरात दौरे पर हैं और उस दौरान सुरक्षा के मुद्दे पर उनकी पुलिस के एक अधिकारी से कहासुनी हुई।गुजरात में इस दफा किसकी सरकार बनेगी ये तो नतीजे के बाद पता चल जाएदा। लेकिन गुजरात में सियासत को नई दिशा देने के लिए आम आदमी पार्टी कमर कस कर तैयार है। आम आदमी के दिग्गज करीब करीब हर महीने राज्य का दौरा कर रहे हैं। लोगों से मिलकर, जुड़कर, वादों के जरिए दिलों में उतरने की कोशिश कर रहे हैं। इसी क्रम में आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल अहमदाबाद में ऑटो में बैठकर लोगों से संवाद की प्रक्रिया में जा रहे थे कि उनकी झड़प पुलिस के अधिकारियों से सुरक्षा को लेकर हुई। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जब उन्होंने सुरक्षा की मांग की ही नहीं तो जबरन आप लोग क्यों सुरक्षा दे रहे हैं। यह तो एक तरह से अरेस्ट करने जैसा है। आप लोग अरेस्ट नहीं कर सकते। तुम क्या सुरक्षा दोगे, तुम्हारे ऊपर एक काला धब्बा है। तुम्हें शर्म आनी चाहिए। आज गुजरात के लोग परेशान हैं क्योंकि आपके नेता जनता के बीच नहीं जाते हैं। हम जनता के बीच जा रहे हैं और आप हमें वहां जाने से रोक रहे हैं। जब सुरक्षा प्रोटोकॉल के बारे में याद दिलाया गया, तो उन्होंने कहा कि यह  प्रोटोकॉल है जिसने गुजरात के लोगों को दुखी किया है। आपके नेता सार्वजनिक रूप से बाहर नहीं जाते हैं। जनता दुखी है। अपने नेताओं से कहो कि वे कभी-कभी प्रोटोकॉल तोड़कर जनता के बीच जाएं। लोग आपके नेताओं से बहुत नाराज हैं।बहस के बाद एक पुलिस अधिकारी उस ऑटो-रिक्शा चालक के पास बैठ गया। जिसमें केजरीवाल होटल से सवार हुए थे। जबकि पुलिस की दो कारें तिपहिया वाहन को घाटलोदिया ले गईं। 

Spread the love

Leave a Reply