Thu. Dec 1st, 2022

झारखंड में भ्रष्टाचार के मामले में बड़ा सियासी घटनाक्रम देखने को मिल सकता है. कहा जा रहा है कि हेमंत सोरेन के अपने कार्यकाल में दौरान खुद के नाम से रांची में खनन पट्टा आवंटित कराने के मामले में उनकी विधानसभा सदस्यता को लेकर निर्वाचन आयोग की राय झारखंड के राजभवन पहुंच चुकी है और अब हेमंत सरकार के भविष्य पर फैसला किसी भी क्षण आ सकता है. सरकार गिरने की आशंकाओं के बीच हेमंत सोरेन ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है. केन्द्र पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘संवैधानिक संस्थानों को तो खरीद लोगे, जनसमर्थन कैसे खरीद पाओगे

Spread the love

Leave a Reply