Sat. Feb 4th, 2023

बेतिया: पश्चिम चम्पारण जिला के बगहा अनुमंडल अंतर्गत भितहा अंचल राजस्व पदाधिकारी (सीओ) पर राष्ट्रीय दलित मानवाधिकार के सचिव की पहल पर एक महिना  बाद बगहा में प्राथमिकी दर्ज की गई है। इस मामले में सिमरीखिया ने अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति थाना बगहा को 19 जुलाई 2022 आवेंदन देकर गुहार लगाया। उनकी दखल कब्जे कि भूमि पर अंचल पदाधिकारी ने बिना नोटिस चिपकाये रंगदारी करते हुए पुलिस बल के साथ जाकर घर उजाड दिया। जिसके संबंध में मु. सिमरीखिया ने दिनांक 19 जुलाई 2022 थाना में आवेदन दिया। अलबत्ता प्रशासनिक हनक और शक्ति प्रदर्शन करते हुए एक माह तक सीओ ने प्राथमिकी नहीं होने दिया। तत्पश्चात पीड़िता ने राष्ट्रीय दलित मानवाधिकार बिहार के सचिव दिलीप कुमार सुमन को आपबीती से अवगत कराया। उसके बाद श्री सुमन ने बगहा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को पत्र लिखा। उसके बाद पुलिस सक्रिय हुई, तो 19 अगस्त 2022 को एक माह बाद बगहा अनुसूचित जाति जनजाति थाना में प्राथमिकी दर्ज किया गया।

Spread the love

By Awadhesh Sharma

न्यूज एन व्यूज फॉर नेशन

Leave a Reply